page contents

akbar birbal ki kahaniyan तीन रोचक किस्से

akbar birbal ki kahaniyan- दोस्तों स्वागत है आपका अकबर बीरबल (akbar birbal) के किस्से कहानियों की  इस रोचक दुनिया मे | यहाँ पर आपको motivational stories के साथ moral stories से मिलने वाले ज्ञान से रुबारू करवाया जाता है |

 

यहाँ हम आपके लिए ऐसी motivational stories लेकर आते है ,जिसे पढ़ने से आपके जीवन मे न सिर्फ एक सकारात्मक बदलाव आता है बल्कि आप अपनी ज़िंदगी मे वो सब कुछ हासिल कर पाते हो जिनकी आपने कल्पना की थी  –

 

यहाँ हम आपके लिए moral stories भी लेकर आते है हर कहानी मे एक सीख जरूर छुपी होती है  जिनसे आपको  बहुत कुछ सीखने को मिलता  है जो आपकी ज़िंदगी मे बहुत काम  आती है |

 

 

 


दोस्तो ऐसी ही हजारो शिक्षा प्रद , लोकप्रिय और रोचक कहानियों का सफर हम आप तक लेकर आए है जिन्हे लोगों ने बचपन मे अपने दादा दादी – या  नाना- नानी  से सुनी होती है या फिर टीवी मे देखी होती है | लेकिन यहाँ पर आपको ऐसी बहुत सी शिक्षा प्रद , लोकप्रिय और रोचक कहानियाँ मिलेंगी जिसे शायद ही आपने कही सुनी होंगी | तो पढ़ते रहिए ऐसी कहानियाँ और सीखते रहिए एक नई सीख  ,साथ मे ऐसी शिक्षा प्रद कहानियाँ  अपने दोस्तो को भी शेयर करते रहिए |


 

 

 

 

दोस्तो बीरबल (birbal) एक बहुत ही बुद्धिमान  इंसान था | बादशाह अकबर के राज दरबार मे बीरबल से बुद्धिमान और कोई नहीं था बीरबल – अकबर के 9 रत्नो मे से एक था | बादशाह अकबर  बीरबल की बिद्धिमानी का लोहा मानते थे |बीरबल  की बुद्धिमानी के किस्से दुनिया भर मे लोकप्रिय है  | आज दुनिया भर मे बीरबल की कहानियों को लोग बड़े उत्तसह से पढ़ते है और टीवी पर भी देखते है जिससे हमे बहुत कुछ सीखने को मिलता है |

 

 

 

हमारी आज की पहली कहानी है

शाही नाई का सपना | akbar birbal stories in hindi 

akbar-birbal-ki-kahaniyan

 

Advertisement

 

अकबर (akbar) के राज दरबार मे बीरबल की बुद्धिमानी से खुश होकर बादशाह अकबर बीरबल (akbar birbal ) की बहुत तारीफ करते और खूब सोने की मोहरो से लाड़  देते थे  |

 

बादशाह अकबर (akbar) के दरबार मे  उपस्थित  कुछ मंत्रियो और गुप्तचरों को यह बात रास नहीं आती थी यानि की वह लोग बीरबल (birbal) और उसकी बुद्धिमानी से बहुत जलते थे |

 

इस बात को लेकर वह हर बार दरबार मे बीरबल (birbal) की टांग खीचते रहते थे मतलब बीरबल (birbal) द्वारा बताए गए किसी भी राय का समर्थन नहीं करते थे हमेशा उसकी बातों का विरोध  ही करते थे |

 

बीरबल (birbal) से जलन रखने वाले पाचों मंत्री यह सोचते रहते की कैसे इसे इस दरबार से हमेशा के लिए निकलवाया जाए | इस लिहाज से वे लोग हमेशा बीरबल (birbal) के खिलाफ रणनीति बनाते रहते थे |

 

इसी मानसिकता से एक बार ऐसे हि वो पाचो मंत्री  बीरबल (birbal) के खिलाफ एक रणनीति बनते हुए एक  शाही नाई का सहारा लेते है | वो नाई को धन का लालच देकर अपना काम निकलवाते है | यह वही नाई है जो बादशाह अकबर (akbar) के राज महल मे अकबर  का बाल काटना और मालिश करने का काम  करता था |

 

वो पाचों मंत्री शाही नाई के पास जाते है और कहते है की इस बार जब तुम  बादशाह अकबर (akbar) के बल काटने जाना तब उनको खना की महाराज मेरे सपने मे आपके पिता जी आए थे और वो ऐसा ऐसा बिला रहे थे यह कह कर पाचो मंत्री उस नाई को सारी बात समझा देते है की अकबर (akbar) को बाल काटते  समय क्या क्या  बोलना है |

 

akbar birbal ki kahaniyan – akbar birbal stories in hindi

 

इतना बोलने और समझाने  के बाद वह   शाही नाई को  1000 सोने की मोहरे देने का लालच देते है सिर्फ यही नहीं वह , शाही नाई को 100 सोने की मोहरे पेशगी के रूप मे पहले  हि दे देते है ताकि उसे यकीन हो जाए कि बाद मे काम  होने के बाद हम उसे बाकी का पैसा भी दे  देंगे | इधर नाई धन की लालच मे आकार उनकी बातों मे फस जाता है और उनका यह काम करने के लिए मान  जाता है |

 

दो दिन बाद शाही नाई बादशाह अकबर (akbar) के बाल काटने उनके कक्ष मे पहुँच  जाता है | बाल काटते काटते शाही नाई वह बाते अकबर को बोलनी शुरू कर देता है जो उसे उन मंत्रियों ने समझाई थी | 

शाही नाई बोलता है कि – 

जहांपना कल रात मेरे सपने आपके पिता जी आए थे और वह बोल रहे थे कि वह वहाँ स्वर्ग मे आराम से है उन्होने आपको उनकी चिंता न करने को कहा है | इधर अकबर (Akbar) ने जब जब शाही नाई कि यह बाते सुनी तो  वे उदास हो गये और कहने लगे कि जब मेरे पिता मरे थे, तब मैं बहुत छोटा था  मैं अपने पिता को बहुत याद करता हूँ  |

Advertisement

 

akbar-birbal-ki-kahaniyan

akbar birbal ki kahaniyan – akbar birbal stories in hindi

अकबर (akbar) शाही नाई कि बातों मे आकार  भावुक हो गए और कहने लगे कि और बताओ और क्या कहा मेरे पिता जी ने | नाई ने कहा, ”जहांपनाह! उन्होंने कहा कि वह ठीक हैं, किंतु थोड़ा बहुत ऊब गए हैं।

 

वह बोले, कि मुझे तुम्हारे दरबार का वी बुद्धिमान इंसान जिसका नाम बीरबल (birbal) है मैं  उसकी बुद्धिमता , चतुराई और हास्य प्रद से भरे कारनामो से बहुत खुश हु बहुत प्रभावित हूँ |

 

पर मे यहाँ स्वर्ग मे अकेला बहुत दुखी अनुभव कर रहा हूँ क्योकि यहाँ बीरबल  जैसा कोई इंसान नहीं है |मेरी एक इच्छा है कि  कि बीरबल (birbal) को यहाँ मेरे पास स्वर्ग मे भेज दो मैं तुम्हारा बहुत आभारी हूंगा |

 

 

यह सुन अकबर (akbar) भावुकता मे इस कदर बह  जाते है कि वह पिता जी कि इच्छा को पूरा करने के लिए बीरबल (birbal) के पास पहुँच जाते है |

 

बादशाह अकबर (akbar) बीरबल (birbal) को सारी बात बताते हुए बीरबल (birbal) को मरने के लिए कहते है | बादशाह अकबर  (akbar) कि यह सभी बाते सुन कर बीरबल (birbal)समझ जाता है कि ज़रूर यह उन मंत्रियों कि कोई चाल है | 

 

इधर बीरबल  (birbal) अपनी बुद्धि का उपयोग करता हुआ कोई उपाय खोज निकालता है और  तुरंत बादशाह अकबर (akbar) को जवाब देता है कि – जहांपना मुझे आपकी बात मंजूर है लेकिन  मुझे दो दिन समय चाहिए ताकि मैं अपने परिवार से  ठीक से मिल सकू और अलविदा कह सकू | बादशाह अकबर (akbar) बोले ठीक है जो तुम्हारी इच्छा | 

 

इस प्रकार बीरबल (birbal) ने बड़ी हि चतुराई से बादशाह अकबर (akbar)  से दो दिन का समय मांग लिया ताकि वो उन लोगो कि सच्चाई बादशाह अकबर (akbar)  के सामने ला सके जिनहोने उसे मरवाने का यह पूरा चक्रविऊ रचा है |

akbar birbal ki kahaniyan – akbar birbal stories in hindi

इधर बीरबल (birbal)  घर आकर  अपनी तेज़ बुद्धि से उनकी सच्चाई सामने लाने का उपाय निकाल लेता है | बीरबल  (birbal)अपने घर के बाहर अपने लिए एक बड़ी सी कब्र खोदता है और उस कब्र के नीचे बड़े हि खूफिया तरीके से एक सुरंग बना देता है जिसका रास्ता उसके शयन कक्ष कि तरफ जाता है है |

 

Advertisement

यह सब करते उसे दो दिन लग जाते है | फिर ठीक अगले दिन बीरबल  (birbal) बादशाह अकबर (akbar) के पास पहुँच जाता है और बादशाह अकबर  (akbar)  से खता है कि जहांपना हमरे परिवार का एक रिवाज है कि मरने वाले को उसके घर के बाहर हि दफनाया जाता है | तो किरपा करके मुझे भी मेरे घर के बाहर हि दफनाया जाए वो भी ज़िंदा |

 

बादशाह अकबर (akbar) को बीरबल (birbal)  के परिवार का यह रिवाज बहुत अजीब लगा लेकिन बीरबल  (birbal) कि यह बात मान ली जाती है और ठीक वेसा हि होता है जैसा बीरबल (birbal) ने कहा |

 

बीरबल (birbal) को उसके घर के बाहर उसे कब्र मे दफ्न दिया जाता है जो बीरबल (birbal)  ने खोदा था | दफनाने के बाद सब वहाँ से चले जाते है |इधर बीरबल (birbal) कब्र के  नीचे वाली सुरंग के रास्ते अपने सायन कक्ष मे पहुँच जाता है | 

akbar birbal ki kahaniyan – akbar birbal stories in hindi

 ठीक तीन दिन बाद बीरबल (birbal) अचानक बादशाह अकबर (akbar) के दरबार मे प्रस्तुत हो जाता है यह देख पूरे दरबार मे हलचल मच जाती है उन पाचो मंत्रियो  का चेहरा तो देखने वाला होता है वो पाचो मंत्री यह देख हक्के बक्के रह जाते है | इधर बादशाह akbar भी हैरान होते है |

 

इधर बादशाह अकबर (akbar) बीरबल (birbal) को अभी भी मारा हुआ समझ कर  पूछते है कि बीरबल  (birbal) तुम यहाँ कैसे ? स्वर्ग मे सब ठीक तो है ? और यह क्या हुलिया बना रखा है ? 

 

यह सुन बीरबल (birbal) तुरंत उत्तर देते हुए कहते है कि जहापना – स्वर्ग मे आपके पिता जी इस बात से बहुत दुखी है कि ऊपर उनके पास कोई शाही नाई नहीं  है जो उनकी दाड़ी बना सके  मालिश करे सके | इसलिए उन्होने अपनी इच्छा बताते हुए आपके पास भेजा है कि उन्हे यह शाही नाई चाहिए | 

 

बीरबल (birbal) कि बात सुनते हि बादशाह अकबर तुरंत उस शाही नाई को मरने का हुक्म सुनतह है , अकबर (akbar) का यह हुक्म सुन शाही नाई के पैरो तले ज़मीन खिसक जाती है वह तुरंत बादशाह अकबर के पैरो मे जा गिरता है और क्षमा मांगते हुए सारी सच्चाई उगल देता है | 

 शाही नाई कि बातों को सुन बादशाह अकबर (akbar) तुरंत  शाही नाई सहित उन पाचो मंत्रियो को 5 साल के लिए कारगर मे दल देते है |

akbar birbal ki kahaniyan – akbar birbal stories in hindi

इधर एक बार फिर से  पूरे दरबार मे बीरबल  (birbal) के  चतुराई कि  वाह वाई होती  है सब लोग एक बार फिर से बीरबल (birbal) कि बुद्धिमानी का लोहा मानते है |

akbar birbal ki kahaniyan – akbar birbal stories in hindi

 

 

 

Advertisement

दोस्तों ये कहानी आपको कैसी लगी? दोस्तो इस कहानी (motivational story) से आपको क्या सीख मिलती है ? नीचे कमेंट करके जरूरु बताना। और इस जानकारी (article) को जादा से जादा लोगो तक शेयर करना ताकि उन तक भी यह  पहुच सके।

 

और यदि आपके पास भी कोई motivational story  , या कोई भी ऐसी ज़रूरी सूचना  जिसे आप लोगो तक पहुचाना   चाहते हो तो वो आप हमे इस मेल  (mikymorya123@gmail.com) पर अपना नाम और फोटो सहित send कर सकते है ।  उसे हम आपके द्वारा सेंद की हुई article के साथ लगा कर यहा पोस्ट करेंगे जितना अधिक ज्ञान बाटोगे उतना ही अधिक ज्ञान बढेगा। धन्यवाद.

 

 

 

 

बीरबल की चतुराई और बुद्धिमानी से भरे रोचक किस्से कहानियों का सफर 

 

यहाँ click करे- बीरबल की बुद्धिमानी से भरी तीन रोचक कहानियाँ बीरबल की चतुराई और बुद्धिमानी से भरे रोचक किस्से कहानियों का सफर 

 

यहाँ click करे- अंगूठी चोर | akbar birbal ki kahaniyan बीरबल की चतुराई और बुद्धिमानी से भरे रोचक किस्से कहानियों का सफर 

यहां click करे –  बीरबल ने दिखाई अपनी कमाल की बुद्धिमानी – बीरबल ने सुलझाया दो साहूकार के बीच लगी शर्त का किस्सा 

 

जिंदगी बादल देने वाली ज्ञान से भारी 100 रोचक कहानियाँ 

 

ज्ञान से भरी किस्से कहानियों का रोचक सफर | यहाँ मिलेंगे आपको तेनाली रामा और बीरबल की चतुराई से भरे किस्से ,  विक्रम बेताल की कहनियों का रोचक सफर , भगवान बुद्ध  कहानियाँ , success and motivational stories और ज्ञान से भरी धार्मिक कहानियाँ 

 

moral-stories-in-hindi

Advertisement

8 thoughts on “akbar birbal ki kahaniyan तीन रोचक किस्से”

  1. Hello…

    I am the sales manager at Epic Traffic Bot and today I would like to propose a special deal that will make your website skyrocket on serps.
    Here at Epic Traffic Bot, we worked really hard to create a software that will completly change the rules of the SEO game.

    You can have a look at the software and at the GUI to understand what it does from here: -> http://bit.ly/ETB2019

    As you may already know, the first important thing that Google considers while ranking a Website are backlinks.
    But that’s only one thing, the other most important thing is the time stayed on page and the bounce rate that your website achieves.

    All this metrics are important just like backlinks, but often kept as secret by the big SEO’s.

    We wanted to create a software that was able to modify this paramenters while being completly undetected.
    It was really important to stay completly undetected, that’s why we created Epic Traffic Bot.

    With Epic Traffic Bot you will be able to rank higher on Google by bringing traffic directly in your site from Google itself!
    How does it work?

    – The bot will use a custom undetectable browser and will navigate to Google
    – Here the bot will type the keywords that you provided
    – After the bot will search for your website on the first page of Google
    – If it doesn’t find it on the first page it will go to second page, then third, then fourth and so on (you can control the amount of pages that the software will search your website).
    – The moment that the software will find your website it will click on your website and then use custom commands that you can provide, like clicking links, filling fields etc to imitate completly human behaviour and lower your Bounce Rate and thus increase your rankings for that keywords.

    Why?

    Because for Google it’s really important how users find the content of your website, some thing that it will be even more than backlinks in the near future.

    But our software it’s not limited to this feature.
    Because you can also send direct hits instead of going from Google or use Youtube or another search engine.

    You can also automate any web task that you can think of like website registration or something similar thanks to our advanced drag and drop scripting module.

    In fact you can tell the program to click a custom element, a random link, a random external link, a random internal link, click ads, set delays, type text on fields, break recaptchas, break captchas, scrape images, scrape articles, export typed text if certain conditions are met, automatically change vpn, loop commands, verify emails automatically, log on console if text found on page, scroll down, scroll up and much more commands like this that will make automation on web pages a real thing, easy to use and that requires 0 programming knowledge.

    You can also of course set proxies, both public or private to send mass traffic to your website and use multi-threading to speed up things even more.
    There are thousands of things that you can do with this SEO tool.

    And we really hope that it will make your life easier as an internet marketer.

    We also provide full support for free to our users.

    If you have any questions about the software please send a message to sales@epictrafficbot.com
    We will answer you the same day!

    Hope to see you on board while we are still offering lifetime licences instead of monthly subscriptions!

    Thanks for your time!

    Reply

Leave a Comment