page contents
happy-diwali

diwali | धनतेरस और दिवाली की ज़रूरी बाते | happy diwali

happy diwali festivals- धनतेरस और दिवाली की ज़रूरी बाते | happy diwali –  दोस्तों जैसा की आप लोग जानते ही है की भारत मे सितम्बर की शुरुआत होते ही त्योहारों का आगमन हो जाता है|

 

जिसमे से दिवाली  का त्योहार  पूरे भारत मे हरसो उल्लास के साथ बनाया जाता आ रहा है | न सिर्फ भारत मे बल्कि विदेशो मे बसे कई भारतीय और विदेशी लोग भी बड़ी धूम धाम से दिवाली का त्योहार मनाते है |

 

दिवाली का त्योहार हिंदुओ  का पवित्र त्योहार है | दिवाली का यह दिन लोग अपने अपने तरीके से मानते है |

 

कई लोग भूखों गरीबो को खाना खिला खिला कर और नए वस्त्र बाट कर , मिठाइयाँ बाट कर दिवाली का पर्व मनाते है |

 

 

धनतेरस और दिवाली के दिन बिलकुल न करे ये काम

happy diwali-deepavali festivals greetings

 

 

कब है दिवाली – when is diwali

दोतों इस बार 2019 की दिवाली 27 अक्तूबर के दिन रविवार को पड़  रही है | दिवाली के ठीक एक दिन पहले धनतेरस  है | 

happy diwali-deepavali festivals greetings

 

 

क्यों मनाई जाती है दिवाली –  Why is Diwali celebrated ?

 

इस दिन भगवान श्री राम जी , माता सीता और लक्ष्मण जी 14 वार्स का वनवास काट कर अयोध्या वापिस लौटे थे | यानि 14 साल तक भगवान श्री राम जी , माता सीता और लक्ष्मण जी बिना पूरी अयोध्या नागरी इस प्रकार  सुनसान हो गई थी मानो शरीर से आत्मा ही निकाल गई थी , तो ऐसे मे अयोध्या वासी  बड़ी बेसबरी से भगवान श्री राम जी , माता सीता और लक्ष्मण जी का इंतज़ार करते रहे और एक दिन आखिरकार वो शुभ और मंगल समय आहि गया जब भगवान श्री राम जी , माता सीता और लक्ष्मण जी 14 वर्स  का वनवास काट कर अयोध्या वापिस लौटे |

happy diwali-deepavali festivals greetings

 

diwali

 

अयोध्या वासियों को कुछ  दिन पहले ही खबर मिली की भगवान राम अयोध्या वापिस आ रहे है तब अयोध्या वासियो के लोगो की खुशी का ठिकाना नहीं रहा उन्होने उसी दिन से   ही  भगवान राम के स्वागत की तैयारियां करनी शुरू कर दी , पूरी अयोध्या नागरी घी के दियो से जगमगा उठी |

 

इसी वजह से इसको दिवाली का नाम मिला |तब  से आज तक दिवाली का यह त्योहार (festival) खुशियों और उल्लास के साथ मनाया जाता आ रहा है |

 

happy diwali-deepavali festivals greetings

 

 

कैसे मनाया जाता है दिवाली  का त्योहार – How is the festival of Diwali celebrated ?

 

दिवाली (diwali) के कुछ दिन पहले ही लोग घरो की साफ सफाई करनी शुरू कर देते है | जैसे भगवान राम के अयोध्या वापिस आने की खुशी मे लोगो ने पूरी अयोध्या नागरी को साफ किया था ठीक उसी  तरह तब से लोग इसी रिवाज को फॉलो करते आरहे है |

इसके इलावा एक मनन्यता है की  दिवाली (diwali) वाले दिन माँ लक्ष्मी उल्लू पर सवार होकर लोगो के घरो मे आगमन करती है ऐसे मे अगर घर मे गंदगी होगी टूटी फूटी चीजे होंगी  तो माँ लक्षमी उस घर मे नहीं आती | इस लिए यह भी एक वजह है की लोग घरो की सफाई करते है |

इस दिन लोग घर से टूटे फूटे समान घर से बाहर निकाल देते है और अच्छे से जले व्गेरा साफ कर देते है | घर मे जालो का लगा होना बहुत अशुभ माना जाता है |

happy diwali-deepavali festivals greetings

दिवाली (diwali) से एक दिन पहले धन तेरस का त्योहार (festival) आता है जिसकी यह मान्यता है की इस दिन बाजार से  ख़रीदारी करने से घर मे बरकत आती है धन और वैभव बढ़ता है | इसलिए इस दिन बाजारो मे बहुत भीड़ देखने को मिलती है | और दुकानदारो की तो चाँदी ही चाँदी होती है |

इस दिन लोग बाजारो से बर्तन , कपड़े, जीवर या फिर चाँदी का सिक्का जरूर खरीदते है | इस दिन झाड़ू खरीदना बहुत शुभ माना जाता है | 

 

दिवाली वाले दिन लोगो मे बहुत खुशी और उल्लास भरा होता है | इस दिन लोग अपने घरो को सजाते है | बिजली की लाइते लगाते है | इस दिन नए वस्त्र पहने जाते है | बहुत से लोग घरो मे रंगोली से सुंदर सुंदर डिजाइन और क्लाकरी करते है 

 

 शाम  होते ही लोग अपने अपने घरो मे माँ लक्ष्मीकी पूजा करते है और घरो अंदर तथा बाहर धी व तेल के दिये जलाते है | जिससे पूरा घर रोशनी से जगमगा उठता है | बाद खूब मिठाइयाँ खाते है | घरो मे अछे अछे स्वादिस्त पकवान बनाए जाते है | 

रात को लोग पटाखे दगा कर अपनी खुशी को जाहिर करते है | इस प्रकार लोग दिवाली का त्योहार मनाते है |

happy diwali-deepavali festivals greetings

ऐसे काम बिलकुल न करे धनतेरस और दिवाली वाले दिन –

 

दोस्तों 25 अक्तूबर को धनतेरस है और इस दिन कुछ काम ऐसे होते ही जो नहीं करने चाहिए | तो चलिये जानते है वो क्या है ?

 

दोस्तो इस दिन कभी किसी को कुछ न दें यदि देना ही है तो एक एक दिन पहले या एक दिन बाद मे दे दें | लेकिन इस दिन किसी को कुछ न ही दें तो अच्छा है क्योकि धनतेरस की मान्यता अनुसार इस दिन कुछ लेने से आपकी बरकत  कई गुना बढ़ जाती है चाहे वी खुशी हो या धन हो |तो सीसे मे अगर आप किसी को कुछ वस्तु या धन देते हो तो यकीनें वो काम हो जाएगा | 

 

diwali

 

अब अप सोचोगे की इस दिन हम कहरीदारी करते हैं तो दुकान दर को पैसे दे ते है तो क्या हमारा धन मे कमी आएगी ? तो इसका जवाब है नहीं , क्योकि यह एक सौदा है इसमे आप यदि दे रहे हो तो उस धन के बराबर के मूल्य वाली वस्तु ले भी तो रहे हो |

happy diwali-deepavali festivals greetings

 

यानि कुल मिलाकर आपने कुछ नहीं दिया |  यदि सिर्फ आप किसी को कुछ दे रहे हो औए ले नहीं रहे हो तो आपकी बरकत से वो वस्तु कम होती चली जाएगी |

अक्सर इस दिन लोग दूसरों को गिफ्ट्स देते है तो ऐसा न करे | इस दिन गिफ्ट के रूप मे किसी को घड़ी बिलकुल न दें | क्योकि ऐसा  करने से  धनतेरस की मान्यता के अनुसार आपका अच्छा समय उसके पास चला जाएगा और उसका बुरा समय आपके पास आजाएगा | इसलिए इस बात का ध्यान रहे की किसी को भी इस दिन घड़ी न दीजिएगा|

 

और आप भी किसी से घड़ी न ले क्योकि हो  सकता है उसका बुरा वक्त चल रहा हो जिससे  वो घड़ी लेने से उसका बुरा वक़्त आपके पास आ सकता है और आपका अच्छा वक़्त उसके पास जा सकता है |

 

 

एक बात ध्यान रहे अक्सर कुछ लोग रात मे  दूसरों के घर दहि मांगने चले जाते है ऐसे मे आप उसको मना कर दे क्योकि दहि को घर की श्री मे गिना जाता है और रात के समय किसी को दहि देने के मतलब हुआ की आपके घर से धन वैभव और खुशी का जाना , तो इस बात का ध्यान रहे की सिर्फ धनतेरस ही नहीं बल्कि कभी भी किसी को रात मे दहि न दें |

 

धनतेरस वाले दिन किसी को भी पैसे उधर लेने देने से बचे | 

 

happy diwali-deepavali festivals greetings

 

 

माँ लक्ष्मी को धन के देवी और कुबेर जी को धन का देवता कहा गया है |

 

चलये जानते है धनतेरस के दिन ऐसा  क्या करने से  पूरा साल  धन की कमी नहीं होती ?

 

इस दिन कुबेर भगवान के साथ धन मंत्री जी की पूजा भी जरूर करे क्योकि धनमंत्री जी स्वास्थ्य के देवता माने जाते जाते है | धनमंत्री जी समुन्द्र मंथन के समय  मंथन मे से  निकले थे |धनतेरस वाले दिन इनकी पूजा करने से  धनमातृ भगवान का आशीर्वाद बना रहता है  जिससे सारा साल स्वास्थ्य अच्छा रहता है | 

 

इस दिन लोहा बिलकुल न खरीदे वैसे भी शनिवार है इस दिन | 

इस दिन गरीबो मे दान करने से  जीवन मे खुशिया स्मृधी  आती है लेकिन ध्यान रहे की दान धन के रूप मे नहीं होना चाहिए कोई भी खाने पीने की वस्ती दान कर दे |

happy diwali-deepavali festivals greetings

 

इस दिन धातु के बर्तन जरूर खरीदे |

इस दिन मिट्टी के दिये और झाड़ू जरूर खरीदे | 

इस दिन धातु की घंटी खरीदने से स्वस्थ मे अच्छा लाभ मिलता है |

 

यदि आप चाहते है की आपके घर मे रिश्तों मे  सुख और प्यार बना रहे तो इसके लिए इस दिन खाना पकाने वाला कोई भी धातु का बर्तन जैसे कढ़ाई, कुक्कर आदि जरूर खरीदे | 

 

यदि आप चाहते है की घर मे धन का अभाव न हो तो इसके लिए इस छोटा सा  चाँदी का एक सिक्का खरीदना न भूले | चाँदी के इस्स सिक्के को पूजा स्थान पर रख दें , दिवाली वाले दिन इस सिक्के कोपूजा के समय मन लक्ष्मी को अर्पित करे और दिवाली के अगले दिन इस सिक्के को चावल की ढेरी मे रख दें , जरूर बरकत होगी |

 

शाम को जब आप  धनतेरस की पूजा करेंगे तब ध्यान रहे की  कुबेर और धनमंत्री जी की मूर्ति उत्तर दिशा की तरफ ही रखे | दोनों के सामने घी के दिये जगाए | इ

सके बाद कुबेर जी के  सामने सफ़ेद मिठाई और धनमंत्री जी के सामने पीली मिठाई अर्पित करे | फिर कुबेर जी के मंत्र का जप करे – ॐ ह्रीम कुबेरय नमः 

आइके बाद धनमंत्री सत्रो का बाथ करके प्रसाद ग्रहण करे | इसके बाद दीपवाली वाले दिन कुबेर भगवान को धन के स्थान पर रख दे | और धन मंत्री जी को पूजा स्थान पर ही रहने दे |

 

दिवाली वाले दिन माँ लक्ष्मी को बेलपत्र अर्पित कर बताशे का भोग जरूर लगाइएगा | यकीन मानिए जीवन मे धन और सुख समृद्धि बनी रहेगी |

happy diwali-deepavali festivals greetings

 

दिवाली के बाद यदि  आपको यह संकेत दिखे तो समझ जाना की माँ लक्ष्मी आप पर प्रस्स्न है |

 

दिवाली

 

दिवाली वाले दिन या दिवाली के बाद सच्च मे या फिर सपने मे आपको आगर माँ लक्ष्मी का वहाँ उल्लू दिखाई दे तो समझना की आप पर माँ लक्ष्मी की किरपा है | 

 

यदि आपको सपने मे कोई माचिस जलाते हुए नज़र आजाए तो इंसान को ऐसी जगह से धन की प्राप्ति होती है जहां से कोई उम्मीद नहीं होती  

 

यदि कोई छोटी लड़की  आपके हाथो मे सिक्के दें , तो  इसका मतलब होता है की माँ लक्ष्मी आपके घर मे है |

 

यदि सपने मे आपको कोई ब्लैंक चेक किख कर दे दें तो इसका मतलब होता है आपको विरासत मे कोई धन मिलने वाला है | और यदि आपका कोई व्यवसाय है तो आपका व्यवसाय बहुत अधिक बरकत करेगा |

 

इसके लिय कुछ सावधानियाँ 

ध्यान रहे घर मे पानी का नल खुला न हो | पानी न टपक रहा हो , नल को अच्छी तरह बंद रखे |

 

यदि सुबह सुबह गाय घर के बाहर आ जाए तो उसे कुछ खाने को जरूर देना | गाय आपके घर के बाहर धन के आने की बहुत शुभ संकेत होता है |

 

यदि आपको लगे की घर मे कुछ दिन से कलेस और माँ मुटाव चल रहे थे जो की अब नहीं रिश्तो मे काफी प्रेम आने लगा है तो यह भी एक संकेत होता है की माँ लक्ष्मी घर आ गई है | 

 

यदि सुबह सुबह उठते ही कानो मे शंख की ध्वनि सुने टी इसका भी मतलब होता है आप पर धन की किरपा होने वाली है |

 

गणेश भगवान को गन्ना अति प्रिय है तो गणेश जी को गन्ने  के रस या उस रस से बनी कोई चीज का गणेश जी को भोग लगाने से  गणेश जी की किरपा तो होती ही है साथ मे माँ लक्ष्मी की भी किरपा होती है |

 

इसके इलवा कोई व्यक्ति घर मे गन्ना ले कर आए या घर मे किसी का गन्ना खाने का माँ करे तो यह धन प्राप्ति के शुभ संकेतो मे गिना जाता है |

 

 

 

 

 

ज्ञान से भरे धार्मिक कहानियों का रोचक सफर- 

 

जरूर पढ़े –  दान का फल – ज्ञान से भरी religious stories

जरूर पढ़े –  कर्मो का फल – ज्ञान से भरी धार्मिक कहानियाँ

जरूर पढ़े – क्यों और कैसे  मनाया जाता है छठ महापर्व ? religious stories hindi

जरूर पढ़े –  Navratri  पूजा विधि, कलश स्थापना, शुभ मुहूर्त | पूजा सामग्री | 

जरूर पढ़े –  क्या कर्मो का फल और दंड इसी जन्म मे मिल जाता है ? 

जरूर पढ़े –  शिव चालीसा का  जीवन मे चमत्कारी प्रभाव

जरूर पढ़े – महात्मा बुद्ध और भिखारी की कहानी 

जरूर पढ़े – सन्यासी का ज्ञान – अद्भुत story

जरूर पढ़े – जबरदस्त पौराणिक कथा -भगवान विष्णु के पांच छल 

जरूर पढ़े – ईश्वर जरूर देता है -पौराणिक कथा 

 

 

जरूर पढ़े – गरुनपुराण के अनुसार – मरने के बाद का सफर

religious-stories-in-hindi

 

 

Religious-stories-in-hindi

 

 

ज्ञान से भरी किस्से कहानियों का रोचक सफर | यहाँ मिलेंगे आपको तेनाली रामा और बीरबल की चतुराई से भरे किस्से ,  विक्रम बेताल की कहनियों का रोचक सफर , भगवान बुद्ध कहानियाँ , success and motivational stories और ज्ञान से भरी धार्मिक कहानियाँ 

 

moral-stories-in-hindi

 

महाभारत काल की अद्भुत ज्ञान से भरी  एक सच्ची ऐतिहासिक घटना – 🙏 इस video को 👉🎧 लगाकर एक बार जरूर देखे.

 

तो दोस्तों ज्ञान से भरी यह video कैसी लगी? ऐसी ही और भी तमाम videos देखने के लिए नीचे दिये गए लाल बटन पर clik करो (दबाओ) 👉

 

 

 

2 thoughts on “diwali | धनतेरस और दिवाली की ज़रूरी बाते | happy diwali”

  1. Pingback: religious stories in hindi कलयुग का आरंभ | Mauryamotivation.com

  2. Pingback: दान का फल dharmik kahaniya | Mauryamotivation.com

Leave a Comment

Your email address will not be published.

life change Moral story for students Life change moral story पुण्य कर्म की शक्ति life change quotes | अद्भुत सुविचार Top 30 Motivational quotes in hindi with image heart touchning quotes in hindi life change inspirational story गरीब मुल्ला short moral story aaj ke suvichar part-3 aaj ke suvichar part-2 krishna thoughts in hindi