page contents

best life change motivational speech hindi

life change motivational speech hindi– नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका एक बार फिर से रोंगटे खड़े कर देने वाली motivational speech मे| आज की ये motivationalspeech आपकी life और सोचने का तरीका बदल देगी |

मुझे नहीं पता की आज से पहले आपने कितनी motivational video देखी होंगी . 

लेकिन आज ये video आपके लिए बहुत ज़ादा खास होने वाली है. क्योंकि जो बातें आज इस video के माध्यम से आप तक पहुंचाने जा रहा हूं. वो ना सिर्फ आपका दिमाग़ खोल कर रख देगी, बल्कि आपके सोचने का तरीका और जिंदगी… दोनों बदल कर रख देगी. 

इयरफोन लगा कर इस अद्भुत video का आनंद लो.

 

life change motivational speech hindi

life-change-motivational-speech-hindi

दोस्तों कहते है की दुनिया मे लगभग सभी का दिमाग़ एक जैसा ही होता है,

कद काठी, रंग रूप को छोड़ कर अगर बात की जाए तो हर इंसान दिखने मे एक जैसा ही होता है. 

तो फिर ऐसा क्यों है, की दुनिया मे 95% लोग सिर्फ 5% लोगो के लिए काम कर रहे होते है….

उन 5% लोगो मे ऐसा क्या है जो 95% लोगो के पास नहीं है.

इसका जवाब है सोच 

एक सकारात्मक सोच,  एक कल्पनाकारी सोच और अपनी इस कल्पना को सच्च मे बदलने के लिए जबरदस्त  इच्छा शक्ति. जो उन 5% लोगो मे कूट कूट कर भरी होती है. 

बस यही सोचने का तरीका, सबका अलग अलग होने की वजह से, 95% लोग उन 5% लोगो के अंडर काम कर रहे होते है.

आखिर इसकी शुरुआत कहाँ से होती है सबसे बड़ी वजह क्या है. 

दो चीजें इसकी सबसे बड़ी वजह है. पहला कम्फर्ट जोन और दूसरा आस पास का माहौल. जी हाँ यही दो  चीजें इसकी सबसे बड़ी जिम्मेदार है.. 

चलिए पहले बात कम्फर्ट जोन की कर लेते है. 

 

 अब ये कम्फर्टेबल जोन क्या है? 

 

कम्फर्टेबल जोन को  हिंदी मे आराम दायक दायरा बोला जाता है. ये एक ऐसी मानसिक अथवा सोच का वो  दायरा होता है जो आपकी काबिलियत को अपने सीमित दायरे मे बांध कर रख देती है. और तो और ये आपको एक ऐसा कुएँ का मेंढक भी बना देती है जिसमे आपको हमेशा  यही लगता रहेगा की जो है बस यही है इससे आगे कुछ नहीं है और इससे बड़ा कुछ नहीं है. 

यानी ये वो दायरा है जिसके अंदर धीरे धीरे आपकी कल्पना शक्ति, इच्छा शक्ति ख़त्म होती चली जाएगी. ना तो आपका कुछ भी अलग,और क्रिएटिव करने का मन करेगा और ना ही ज़ादा दिमागी और शारीरिक मेहनत करने का मन करेगा. 

ये अपना  सबसे पहला अटैक आपकी सकारात्मक सोच और कल्पना शक्ति पर करती है

  जिसके चलते आप जीवन मे कोई बड़ा और महान लक्ष्य बना ही नहीं पाते. अरे भई, ज़ब कल्पना शक्ति ही नहीं काम करेगी तो आप महान लक्ष्य के बारें विचार कैसे करोगे. 

और मान भी लो आपने कोई महान लक्ष्य बना भी लिया, तो उसे सच्च मे बदलने के लिए प्रयास ही नहीं कर पाओगे. 

सपनों को सच्च मे तभी बदल पाओगे ना,,, ज़ब इच्छा शक्ति काम करेगी.  

क्यों…. क्योंकि कम्फर्टेबल जोन का दूसरा अटैक आपकी इच्छा शक्ति पर होता है जिसमे आपका,, कोई मानसिक और शारीरिक मेहनत करने का मन ही नहीं करेगा. बस आपका मन एक आरामदायक स्थिति मे ही रहना पसंद करेगा. 

क्यों…. क्योंकि आपकी उस जोन मे रहने की आदत बन चुकीं होती है  आपको ऐसी life स्टाइल से प्यार हो चुका होता है.  

 अगली जगह पर आप  तभी पहुंच पाओगे ना, ज़ब पहली जगह को छोड़ोगे. यानी जीवन  मे आगे बढ़ना है तो कम्फर्ट जोन को छोड़ना ही पड़ेगा. 

ये कम्फर्ट जोन हर जगह पाया जाता है, फिर चाहे वी सरकारी जोब हो, प्राइवेट जोब हो या खुद का कोई बिज़नस. हर जगह पर आपको ये कम्फर्ट जोन वाले इंसान मिल जाएंगे. 

दूसरी सबसे बड़ी वजह है – हमारे आस पास का माहौल. life change motivational speech hindi

जी हाँ दोस्तों, इसकी शुरुआत हमारे बचपन से ही हो जाती है, घर मे कोई बड़ा आदमी या औरत सरकारी प्राइवेट जोब कर रहा होगा तो घर का  माहौल भी वैसा ही बना होता है

 जोब वाला. जहाँ अक्सर ये कहा जाता है की देख लें बेटा … तेरे को इतना पढ़ा लिखा रहे इतना पैसा लगा रहे है, तो बढ़िया सि जोब हासिल करनी है तेरे को.

 नाक नहीं कटाना. बढ़िया कम्पनी मे जोब लेनी है. 

देख बेटा ये जोब करले, बहुत पैसा इसमें.. बेटा डॉक्टर बनना है तेरे को पैसा बहुत है इसमें,

बेटा इंजीनियर बन कर दिखाना है तेरे को…. मेरा सपना है. समाज मे नाम रोशन करना है.

अबे कोई बेटे या बेटी से तो पूछ लो उसकी इच्छा क्या है… और क्या सिर्फ डॉक्टर इंजिनियर ias ips  बन कर ही समाज मे नाम रोशन होता है. और कुछ नहीं है. 

 खैर इसके बाद नंबर आता है स्कूल कॉलेज का.. जहाँ पर सारी पढ़ाई का उदेश्य घुमा दिया जाता है जोब की तरफ. जहाँ पर सिखाया जाता है की जोब कैसे लेनी है,  खुद को कैम्पस प्लेसमेंट के लिए कैसे तैयार करन है इंटरव्यू कैसे पास करना है. 

मतलब क्रिएटिविटी की कोई बात ही नहीं करता.लोगो की नीड्स को देखते हुए  Ideas के ऊपर कोई बात ही नहीं करना चाहता. बात होती है तो सिर्फ जोब की. 

सिखाया जाता है रोजगार कैसे हासिल करें बल्कि ये नहीं सिखाया जाता की रोजगार कैसे क्रिएट करें….

यानी आधी जिंदगी जो ज्ञान हासिल करवाया जाता है वो जोब के लिए,

 ऐसा माहौल बना दिया जाता है की हमारे दिमाग़ पर जोब वाली मानसिकता का ऐसा ठप्पा लग जाता है जिसका क्रेज़ जिंदगी भर बना रहता है. इंटरव्यू – जोब – कैम्पस –  कम्पनी – सैलरी प्रमोशन – सैलरी प्रमोशन – सैलरी प्रमोशन……… बस….. यही विचार दिमाग़ मे जिंदगी भर घूमते रहते है

.फिर इन विचारों से आगे जाकर हमारा मन कुछ और सोचना ही नहीं चाहता. 

 

अब आप खुद विचार करो,,, ऐसे मे किसका मन करेगा  कुछ नया करने का कुछ क्रिएटिव करने का….महान लक्ष्य का निर्माण करने का. सफलता के नए मुकाम को छूने का, नया इतिहास बनाने का…  क्यों… क्योंकि माहौल ही ऐसा बन जाता है. 

अब आप समझ गए होंगे की करोड़ो लोग किस मानसिकता का शिकार हो रखें है, … 95 और 5% का ये आकड़ा आने वाली पीढ़ियों के लिए चेलेंज बन चुका है. 

और ये आकड़ा तब तक बरकार रहेगा ज़ब तक आप उन 95% लोगो की तरह सोचते रहोगे.

नजर को बदलो तो नजारे बदल जाते है, सोच को बदलो तो सितारे बदल जाते है!!

कश्तियां बदलने की जरूरत नहीं जनाब,  दिशा को बदलो तो किनारे खुद-ब-खुद बदल जाते हैं!!

यदि आपको इन्ही 95% लोगो का हिस्सा बनना है तो ये सोच आपको ही मुबारक हो. 

पर दुनिया मे कुछ ऐसे सनकी लोग भी होते है… जिनको, वो करना होता जिसे करने की हर किसी की औकात नहीं होती…

और ये कोई आसमान से टपके  एलियंस नहीं होते बल्कि हमारी आपकी  तरह इंसान ही होते है… 

ये वही लोग होते है जो आपमे से ही निकल कर आगे बढ़ जाते है.और यदि आप भी इन्ही सनकी मे से एक हो तो उन 95% लोगो वाली सोच को अपने आस पास भी मत भटकने देना…….

क्योंकि यही वो सोच है जो आपके पँख काटती है…यही वो सोच है जो आपको आसमान की तरफ देखने भी नहीं देती और जमीन पर ही रहने के लिए मजबूर कर देती है.

यही वो सोच है जो आपकी काबिलियत को एक सीमाओं मे बांध कर रख देती है. आपके हुनर का गला दबा देती है.मत भूलो की आप उड़ने के लिए बने हो..

Amazon, फ्लिपकार्ट, वालमार्ट, एप्पल, google, facbook, टाटा, tcs, रिआलाइन्स, उबर, ओला पतंजलि.. जैसी महान empayar दिग्गज कंपनीस, जिनकी शाखाए पूरी दुनिया मे सफलता के झंडे गाड़ रही है.

यह सब भी किसी ना किसी इंसान की सोच का नतीजा है

आप भी कर सकते हो ।हर इंसान कर सकता है लेकिन उसके लिए सबसे पहले आपको अपनी सोच बदलनी होगी. 

एक छोटे स्तर से शुरुआत करके आगे बढ़ना होगा. अपने कम्फ़र्टेबल जॉन से बाहर निकलना होगा.

ग़र आप वहीं करोगे जो अब तक करते आए हो तो आपको सिर्फ  वहीं मिलेगा जो अब तक मिलते आया है

अब फैसला आपके हाथ मे है. अब इस  life change motivational speech hindi को पढ़ने के बाद अब आपका फैसला क्या है कमेन्ट करके जरूर बताना |

उम्मीद करता हूँ की आज की इस life change motivational speech hindi से आपको बहुत प्रेरणा मिली होगी |

मै चाहता हूँ की ये  life change motivational speech hindi उन लोगो तक पहुचे जिन लोगो का हौसला कमजोर हो चुका है जो सोचते है की जीवन मे मैं कुछ नहीं कर सकता जो लोग अपने लक्ष्य तक नहीं पहुच पाए है | मुझे भरोसा है एसी तमाम motivational speech को पढ़ने के बाद उनके अंदर अद्भुत सकरत्म्क ऊर्जा का संचार होगा और वह फिर से वो मजबूत इरादो के साथ आगे बढ़ेंगे | इसलिए इस पोस्ट को जादा से जादा शेयर करे | धन्यवाद |

इन्हे भी जरूर पढ़े

Motivation से भर देने वाली ये अद्भुत speech जरूर पढ़े 👇

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

chanakya niti ki anmol bate | चाणक्य शस्त्र Chanakya niti | झूठ बोलने वाली पत्नी chanakya niti | इन बातों को समझ गए तो रिश्ते कभी खराब नहीं होंगे chanakya niti hindi me chanakya niti | chanakya golden thoughts chanakya niti | life change quotes chanakya niti | इन 5 परिस्थितियों मे हमेशा चुप रहो chanakya niti | life change thoughts chanakya niti | चाणक्य के अनमोल वचन chanakya thoughts for life