page contents

Powerful motivation hindi speech job vs business

Powerful motivation hindi speech – नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका एक बार फिर से life change motivational speech मे |दोस्तो motivation का हर इंसान की ज़िंदगी मे उसकी हिम्मत को बरकरार रखने और जीवन मे लगातार आगे बढ़ते रहने मे बहुत अहम रोल अदा करती है | एक motivational speech का मन बहुत गहरा और सकारात्मक प्रभाव पड़ता है जो किसी भी इंसान की जिंदगी को बदल देने की क्षमता  रखता है |

तो चलिये बरहते है आज Powerful motivation speech की तरफ |

life change – Powerful motivation hindi speech

Powerful-motivation-Hindi-speech

Powerful motivation hindi speech

नजर को बदलो तो नजारे बदल जाते है, सोच को बदलो तो सितारे बदल जाते है!!

कश्तियां बदलने की जरूरत नहीं जनाब,  दिशा को बदलो तो किनारे खुद-ब-खुद बदल जाते हैं!!

 

नमस्कार दोस्तों, मै हरजीत मौर्या, आज इसी सोच की ताकत से रूबरू करवाने के लिए आप तक ये video लेकर आया हूं.

स्वयं ये video भी मेरी कल्पनाशाली  सोच और इच्छा शक्ति का ही नतीजा है. ये विडियो आपको motivation की अद्भुत सकारात्मक ऊर्जा से सराबोर कर देगी |इस अद्भुत विडियो का आनंद लेने के लिए कानो ईयर फोन लगा कर देखे | 

 

 

Dr.अब्दुल कलाम जी के द्वारा कही गई एक बात…… आज भी बहुत मशहूर है.

 

शुरुआत करने के लिए महान होना जरुरी नहीं.. बल्कि महान बनने के लिए शुरुआत करनी बहुत जरुरी है.

 

इतिहास के महान राजनीतिज्ञ श्री चाणक्य जी कहते है…

 

एक महान लक्ष्य का निर्माण तभी हो पाता ज़ब हमारी सोच सकारात्मक और कल्पनाशील होती है.. और उस महान लक्ष्य को हम तभी हासिल कर पाते है ज़ब हमारी इच्छा शक्ति सातवे आसमान पर हो.

 

हम वो सब कुछ कर सकते है जो भी हम सोच सकते है*

 

पर साला प्रॉब्लम ही यही है की हम सोचना ही नहीं चाहते. और अगर सोचते है तो उस पर कुछ करना ही नहीं चाहते क्यों?  क्योंकि हम अपने कम्फर्ट जोन से बाहर जाना ही नहीं चाहते,

Advertisement

इस दुनिया की हर एक चीज हर एक कंपनी, हर empayar  किसी ना किसी बड़ी कल्पना शक्ति – सकारात्मक सोच और इच्छा शक्ति का ही नतीजा है.. जो आज कामयाबी की बुलंदियों को छू रहा है…

 

 

वरना रिस्क ना  लेने वाले लोग

असफलताओ से डर कर छोटी और नकारात्मक सोच वाले लोग आज भी……

या तो  मेहनत मजदूरी पर ही निर्भर है…

या तो 10 साल से रगड़ रगड़ कर 30 से 40 हज़ार ₹ की प्राइवेट जोब पर लटके हुए है…

या फिर काम चलाऊ छोटा मोटा काम करके एक दुकान दरी तक ही सीमित रह चुके  है

या फिर…. अमीर होने की जद मे कोई  गलत रास्ता अपना कर किसी ना किसी वरदान को अंजाम देते फिर रहे है.

 

दोस्तों….

 

Amazon, फ्लिपकार्ट, वालमार्ट, एप्पल, google, facbook, टाटा, रिआलाइन्स, tcs, जैसी महान empayar दिग्गज कंपनीस, जिनकी शाखाए पूरी दुनिया मे सफलता के झंडे गाड़ रही है.

 

यह सब भी किसी ना किसी इंसान की सोच का नतीजा है. यहां तक की आप जिस मोबाईल पर ये video देख रहे हो ये भी किसी सोच का नतीजा है.

 

दोस्तों,  हर कोई अपनी life स्टाइल को बेहतर बनाना चाहता है…. बस तरीके अलग अलग है…

 

लेकिन अपनी सेल्फ सेटिस्फेक्शन से कॉप्रोमाइज करके life स्टाइल को बेहतर बनाना कहाँ तक जायज लगता है…

 

Advertisement

यानी आप नौकर बन कर life  स्टाइल को अच्छा बनाना चाहते हो या मालिक बन कर. इस पर अपनी राय कमेंट मे जरूर बताना…

क्यों…

क्योंकि…

 

5% लोगो को छोड़ कर…. 95% लोगो का सपना यही होता है और सोच भी यही होती है… की वो एक बहुत बड़ी कम्पनी के employee हो..प्रमोशन होती रहे बस life सेट है.

 

लेकिन इन लाखो मे से कोई एक ऐसा भी होता है जो इन कम्पनियो का employee बनने की नहीं बल्कि ऐसी दूसरी कम्पनी “खड़ी करने की सोच रहा होता है”

और सिर्फ सोचते ही नहीं है ये लोग,

बल्कि ऐसे *एम्पायर* को खड़ा करने की *औकात* भी रखते है….

 

मैं बात पैसे की नहीं हिम्मत और हौसलों की कर रहा हूं…

Powerful motivation hindi speech

 

लोग कहते है की सोचने से कुछ नहीं होता.

हा मानता हु यह बात सही है लेकिन हर चीज की शुरुआत एक छोटी सी सोच से ही शुरू होती है….

 

मेरा ही एक दोस्त है नाम नहीं लेना चाहूंगा वो खुद समझ जाएगा…

 

मैं उसकी एक सोच की वजह से ही आज ये video बनाने पर मजबूर हुआ हूं…

 

Advertisement

आज से 5 या 6 दिन पहले हम दोनों फ्यूचर प्लान को लेकर कुछ बातें डिस्कस कर रहे थे….

 

जिस पर उसने कहा की वो अगले दो साल तक 15 हज़ार रूपए की यही जोब करेगा..

 

उसके बाद एक्सपीरियंस के दम पर दूसरी बड़ी कंपनी मे अप्लाय करेगा..

 

वहां और ज्यादा सैलरी ऑफर होगी, प्रोमोश होगी..

परमानेंट हो जाऊंगा और प्रमोशन हो जाएगी 35 या 40 हजार सैलरी आराम से मिलेगी…

 

फिर जैसे जैसे तजुर्बा बढ़ता जाएगा आगे अप्लाय करते रहेंगे. और उसके बाद तो बस अपनी life सेट है…

 

तो यहां पर हो क्या रहा है?.. आप समझ रहे हो?  यहां पर कोई success की बात  नहीं… बल्कि और ज़ादा इनकम तक कैसे पहुँचू वो बात हो रही है.

 

देखिये दोस्तों, जोब से मुझे  प्रॉब्लम नहीं l लेकिन ये जो जॉब्स होती है ना… ये हमारी फाइनेंशियली सीमाओं बांध देती है.

आप चाह कर भी इन सीमाओं से आगे नहीं बढ़ सकते. और ज़ब तक  ये बात समझ आती है तब तक बहुत देर हो चुकीं होती है.

 

दोस्तों मुझे उसके प्लान से नहीं बल्कि उसकी सोच से  प्रॉब्लम हो रही थी..

 

और हा एक बात बता दू ये बंदा उन्ही 95% लोगो मे से ही एक था जिनकी मैं अभी  कुछ देर पहले बात कर रहा था..

 

Advertisement

एक्चुअल मे ये बंदा सिर्फ अपनी सोच को नहीं, बल्कि उन 95% लोगो की सोच को रिप्रेसेंट कर रहा था जो सेम ऐसी ही सोच रखते है.

 

*यदि आपकी भी ऐसी ही सोच है तो एक बात ध्यान से सुन लो*

 

आपकी यह सोच आपको भी वहीं जिंदगी देगी जो उन 95% लोगो को दे रही है…

 

और अगर आपको ऐसे ही जीना है तो भैया. all the best……

 

पर दुनिया मे कुछ ऐसे सनकी लोग भी होते है… जिनको, वो करना होता जिसे करने की हर किसी की औकात नहीं होती…और ये कोई आसमान से टपके एलियंस नहीं होते बल्कि हमारी आपकी  तरह इंसान ही होते है…

 

ये वही लोग होते है जो  जिनकी कल्पना शक्ति जागृत हो जाती है, जिनको अपनी सही काबिलियत पता लग जाता है..

जिनको खुद पर विश्वास हो जाता है और फिर ज़ब इनकी इच्छा शक्ति इनकी काबिलियत को पर लगाती है तो ये आपमे से ही निकल कर आगे बढ़ जाते है.

 

और यदि आप भी इन्ही सनकी मे से एक हो तो उन 95% लोगो वाली सोच को अपने आस पास भी मत भटकने देना…….

 

क्योंकि यही वो सोच है जो आपके पँख काटती है…

 

यही वो सोच है जो आपको आसमान की तरफ देखने भी नहीं देती और जमीन पर ही रहने के लिए मजबूर कर देती है.

 

यही वो सोच है जो आपकी काबिलियत को एक सीमाओं मे बांध कर रख देती है. आपके हुनर का गला दबा देती है.

Advertisement

 

मत भूलो की आप उड़ने के लिए बने हो..

 

याद रखना भगवान हर इंसान के अंदर वो कला और हुनर दे कर भेजता है जिसके दम पर वो अपना खुद का एम्पायर खड़ा करने की औकात रखता है…दुनियां जीत सकता है.

 

रोज लाखो बच्चे जन्म लेते है रोज लाखो लोग अपना करियर बनाते है. और रोज लाखो लोग मर भी जाते है…

 

लेकिन ये दुनिया उन्ही को याद रखती है जो इन लाखो की भीड़  से निकल कर कुछ अलग कर जाते है…

 

क्योंकि दुनिया का… एक ही उसूल है की वो भीड़ को कभी याद नही रखती है.

 

जो लोग भीड़ का हिस्सा होते वो अक्सर कम्फ़र्टेबल जॉन के नाम से जाने जाते है |

 

लेकिन कुछ आपमे से ही निकाल कर आगे बढ़ते है और एक एम्पायर खड़ा कर  देते है |

 

जानते है एसा क्यो ? क्योकि इनकी सोच अलग होती है |

 

ये लोग आगे बढ़ना चाहते है ताकि इनका और इनके परिवार का भविष्य सुधार जाए |

 

आने वाली पीढ़ियाँ इनसे प्रेरित होकर खुद की काबिलियत पर आगे बढ़ती रहे |

Advertisement

 

ये वो लोग होते है जिनके अंदर जुनून होता है भीड़ से हट कर कुछ नया करने का |

 

ये लोग शुरुआत तो एक छोटे से स्तर से ही करते है लेकिन खूब मेहनत –  काबिलियत और तजुर्बो की मदद से एक बड़ा एम्पायर खड़ा कर देते है |

 

आप भी कर सकते हो ।हर इंसान कर सकता है लेकिन उसके लिए सबसे पहले आपको अपनी सोच बदलनी होगी. अपने कम्फ़र्टेबल जॉन से बाहर निकलना होगा

अब फैसला आपके हाथ मे है.

 

उम्मीद करता हूँ की आज की इस Powerful motivation hindi speech से आपको बहुत प्रेरणा मिली होगी |

मै चाहता हूँ की ये  Powerful motivation hindi speech उन लोगो तक पहुचे जिन लोगो का हौसला कमजोर हो चुका है जो सोचते है की जीवन मे मैं कुछ नहीं कर सकता जो लोग अपने लक्ष्य तक नहीं पहुच पाए है | मुझे भरोसा है एसी तमाम motivational speech को पढ़ने के बाद उनके अंदर अद्भुत सकरत्म्क ऊर्जा का संचार होगा और वह फिर से वो मजबूत इरादो के साथ आगे बढ़ेंगे | इसलिए इस पोस्ट को जादा से जादा शेयर करे | धन्यवाद |

इन्हे भी जरूर पढ़े |

 

जरूर पढ़े- success का मूल मंत्र | जिंदगी के 24 घंटे

success

 

 

जरूर पढ़े – Best success tips and strategy hindi

जरूर पढ़े motivational & inspirational biography stories 

जरूर पढ़े -फ़टे जूतों से लेकर gold मैडल जितने तक सफर -कैसे बनी DSP

जरूर पढ़े -शांतनु नायडू की दिल छू जाने वाली inspirational biography 

Advertisement

Powerful motivation hindi speech job vs business

 

रोंगटे खड़े कर देने वाली inspirational story -जिद्द ने रचा इतिहास 

Arunima-sinha-biography -hindi

 

जरूर पढ़े – success story जिद्द और कामयाबी की अद्भुत दास्तां

 

success-story-in-hindi

 

Advertisement

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *