page contents

hindi best inspirational story | 1 मकड़ी का जाला

hindi best inspirational story – नैतिक कहानियाँ –नमस्कार दोस्तों मैं हरजीत मौर्या आज फिर से आपके लिए ज्ञान से भरी एक top inspirational story  (शिक्षाप्रद कहानी) लें कर आया हूं. 

ये  inspirational stories  हर इंसान की जिंदगी मे बहुत बड़ा रोल play करती है | ये  inspirational stories इंसान को ज़िंदगी मे आगे  बढ़ने  और बड़े से  बड़े  मुकाम हासिल करने के लिए  प्रेरित करती  है | 

चलिये अब पढ़ते है हमारी आज की hindi best inspirational story –

 

 

 

मकड़ी का जाला | best inspirational story

Hindi-inspirational-story
Hindi inspirational story

एक बार एक मकड़ी बड़े  उत्साह के साथ एक कमरे के कोने मे जाला बुन रही थीं. बहुत प्रयास के बाद जाला लगभग आधे से ज़ादा बुन कर तैयार हो चुका था.

मकड़ी बहुत खुश थीं. इतने मे मकड़ी की नजर एक बिल्ली पर पड़ी जो उसे देख कर खूब हंस रही थीं.

मकड़ी ने बिल्ली से पूछा तुम मुझे देख कर ऐसे हंस क्यों रही हो.?

बिल्ली बोली – अरे हंसू नहीं तो और क्या करू. तुम बेअकल का काम जो कर रही हो बेकार की मेहनत कर रही हो .

 

ध्यान से देखो पहले इस कमरे को, कितने साफ सुथरा है. कोई गंदगी नहीं यहां. ऐसे मे भला कौन मक्खी इस कमरे मे आएगी और तुम्हारे जाल मे फंसेगी. मेरी सलाह मानो तो कोई दूसरी जगह जाला बनाओ.

बिल्ली की यह सलाह मकड़ी को सही लगी. इस तरफ बिल्ली के कहने पर मकड़ी अपना आधा जाला छोड़ कर किसी दूसरी जगह की तलाश मे निकल गई.

 

 

इधर उधर देखने के बाद मकड़ी की नजर बाहर वाली खिड़की पर पड़ी.

अब मकड़ी ने कुछ देर जाला बुना . लेकिन इतने मे वहाँ एक चिड़िया आई और बोलने लगी.
की अरे मकड़ी बहन ये तुम क्या कर रही हो. यहां पर जाला मत बनाओ.

hindi best inspirational story

यहाँ तेज़ हवाए आती रहती है. तुम्हारा जाला टूट जाएगा और सारी मेहनत खराब जाएगी. यहां जाला मत बनाओ.

चिड़िया की ये बात सुन मकड़ी बोली. हाँ बहन, बात तो तुम सही बोल रही हो.

Advertisement

इतना बोल मकड़ी उदास मन से वहाँ से भज चली गई और दूसरी जगह खोजने लगी.
समय काफ़ी बीत चुका था अब मकड़ी को बहुत भूख भी लग रही थीं. इतने मे मकड़ी को एक अलमारी खुली हुई मिली,

 

मकड़ी तुरंत उस अलमारी मे घुस गई और फिर से पूरे उत्साह के साथ एक कोने मे जाला बुन ना शुरू कर दिया.

इस बार एक कॉकरोच आया और बोलने लगा – अरे रुको रुको. क्यों बेकार की मेहनत कर रही हो.

जल्दी ही मकान मालिक ये अलमारी बेचने वाला है. इस अलमारी की सफाई होगी और नया पेंट करवाया जाएगा. तब ना तुम्हारा जाला बचेगा और ना ही तुम.

 

मकड़ी डर गई और तुरंत वो स्थान छोड़ कर भाग जाने मे ही होनी भलाई समझी.

अब मकड़ी थकी हारी उदास मन से एक कोने मे बैठ गई. अब जाला बुनने की ताकत भी उसमे नहीं बची थीं. मकड़ी ये सोचने लगी की पहले ही ये जाला बुन लिया होता तो मेरी ते हालत ना होती.

 

इतने मे एक चींटी उसके पास आई और बोली.

👉🏻मैं तुम्हे कब से देख रही हूं. ज़ब भी तुम जाला बनाना शुरू करती हो तब हर बार किसी दूसरे के कहने पर अपना जाला अधूरा छोड़ कर वहाँ से चली जाती हो.

दूसरों के कहने पर जो कोई भी अपना काम ऐसे अधूरा छोड़ कर चला जाता है उसका यही अंजान होता है. इतना कह कर चींटी वहाँ से चली गई.

 

इस hindi best inspirational story से हमने क्या सीखा ?

तो दोस्तो इस कहानी (best hindi inspirational story) से हमे ये सीख मिलती है की |

 दोस्तों ऐसा ही उस हर इंसान के साथ होता है जो दूसरों के कहने पर अपने लक्ष्य बदल लेते है या फिर काम बीच मे ही छोड़ देते है.

इस hindi best inspirational story से हमने सीखा की एक बात हमेशा याद रखो जिंदगी मे अगर कोई बड़ा मुकाम हासिल करना है तो आपको लोगी की नकारात्मक बातो पर ध्यान नहीं देना है.

बस पूरी मेहनत, सच्ची लगन, ईमानदारी और will पावर के साथ अपने काम को करते रहना है.

 

 

तो दोस्तो उम्मीद करता हूँ की आप इस hindi inspirational story से बहुत कुछ सीखे होंगे और प्रेरित हुए होंगे | इस  hindi inspirational story  को अपने सभी दोस्तो और groups मे जरूर   

Advertisement

 

ताकि और भी इस hindi inspirational story से सीख लेकर और प्रेरित होकर अपने जीवन बड़े से बड़े मुकाम को हासिल कर सके | आपका द्वारा किया गया ये एक छोटा सा प्रयास किसी का जीवन बादल सकता है |

 

👇दुनियां की सबसे प्रेरणादायक कहानियाँ जरूर पढे 👇

जीवन बदल देने वाली ज्ञान से भरी अद्भुत कहानियाँ जरुए पढे 👇

 

बच्चो के लिए बेहद ज्ञान सी भारी कहानियां जरूर पढे 👇

 

 

 

जरूर पढ़े- success का मूल मंत्र | जिंदगी के 24 घंटे

success

 

 

 

 

Advertisement

Leave a Comment