page contents
Moral and motivational story in hindi प्यासा हिरण

Moral and motivational story in hindi प्यासा हिरण

Moral and motivational story in hindi – जीवन मे  moral and motivational दोनों प्रकार की कहानियों का विशेष महत्व  होता है. यह कहानियाँ हमें अंदर से मजबूत बनाती है. मन मे ज्ञान का प्रकाश फैलाती है. इन कहानियों से मिलने वाली सीख हमें जीवन की मुश्किल परिस्थितियों मे धैर्य बनाए रखने और सही फैसला लेने मे मददगार होती है. तो आज हम आपके लिए एक ऐसी कहानी लें कर है जो moral भी है और motivational भी.

 

हिरण की प्यास | motivational story in hindi

Moral-motivational-story

बहुत गर्मिया पड़ रही थी, जिस वजह से जंगल के कई हिस्सों मे भयंकर आग फैलती जा रही थीं.

दूर से काले बादल आरहे थे.

एक, हिरण को बहुत प्यास लगी थीं. दूर दूर तक सूखी झाड़िया, और कुछ हरे सूखे पेड़ दिखाई दे रहे थे.

इधर उधर भटकने के बाद पानी ना मिलने पर हिरण थक कर एक पेड़ के नीचे बैठ गया. वो प्यासा हिरण सर उठाए आसमान की तरफ भी देखता ! इस उम्मीद से की बरसाती बादल आए लेकिन उनको बरसने मे अभी बहुत वक़्त था |

हिरण बहुत मायूस होकर सर जमीन पीआर लेट गया मानो अब हिम्मत ही नहीं थी |  तभी सरसराती गर्म हवाओ की आवाज़ के साथ ज़ब अचानक उसके कानो मे एक हल्की सि किसी नदी के बहने की आवाज़ सुनाई दी.

तभी हिरण उठ खड़ा हुआ और धीरे धीरे उस आवाज़ की तरफ बढ़ने लगा. कुछ दूर चलने के बाद हिरण को एक विशाल गहरी नदी दिखाई दी.

यह दृश्य देख हिरण की आखे चमक गई शरीर मे मानो बिजली की लहर सी दौड़ गई | अब वो हिरण जैसे ही नदी के पानी के पास पहुंचा, तभी वहाँ से हिरण के बाई तरफ दूर झाड़ियों से कुछ अजीब सि आवाज़ आती है.

हिरण ने अपनी तेज़ नज़रो से देख लिया की वो शेर है. डर  की वजह से हिरण की धड़कने तेज़ हो गई.

अब जैसे ही हिरण वहाँ से भागने के लिए दाए मुड़ा तभी उसकी नजर दूर एक शिकारी पर पड़ती है जो उसे मारने के लिए हाथ मे तीर धनुष ताने खड़ा था.

वहीं हिरण ने पीछे देखा तो प्रचंड गर्मी की वजह से जंगल मे भयंकर आग  लग चुकी थीं.हिरण के आगे गहरी तेज़ बहाव वाली नदी थीं.जिसमे पैर रखना मौत को ग्ले लगाने जैसा था |

अब हिरण सोच मे पड़ गया की करें तो करें क्या. चारो तरफ मौत मंडरा रही थीं.
हिरण के पास वक़्त बहुत कम था ये सोचने के लिए की कैसे बचा जाए इन हालातो से .

हिरण प्यास की वजह से पहले ही अधमरा हो चुका था ,वो ये भी समझ चुका था की अब उसके बचने की कोई उम्मीद नहीं , लेकिन हिरण ने फिर भी हार नहीं मानी.ना जाने अब भी  कौन सी सोच  उसकी उम्मीदों को टूटने नहीं दे रही थी |

हिरण ने अपनी आखे बंद कर ली , कुछ पलो के लिए हिरण सब भूल गया | हिरण समझ गया की अब ज़ब मरना ही है तो क्यों ना प्यास बुझा कर ही मरु.

अब पहले प्यास बुझा लू फिर क्या करना है क्या नहीं वो अब प्यास बुझाने के बाद ही देखूंगा. .

हिरण सब कुछ भुला कर पानी पीने लगा.वहीं दूर से आते काले बदलो ने बरसना शुरू किया.

जिस वजह से शिकारी के आँखो मे बारिश के छींटे पड़ गए, निशाना चूक गया, बाण सीधा हिरण की बजाय शेर को छू कर निकल गया.

शेर का ध्यान अब हिरण से हटकर उस शिकारी पर जा बैठा,शिकारी वहाँ से भाग निकला, शेर, शिकारी के पीछे दौड़ा.

वहीं दूसरी तरफ बारिश के पानी से जंगल की सारी आग भी बुझ चुकीं थीं.

इधर हिरण ने जब प्यास बुझा कर ज़ब बाए देखा तो शेर वहाँ नहीं था, फिर दाए देखा तो शिकारी भी नहीं था, पीछे देखा तो आग भी बुझ चुकीं थीं. हिरण को कुछ समझ नहीं आया की ये क्या हुआ ?ये  सब कहीं मेरे मन का भ्रम तो नहीं था जो प्यास की वजह से मुझे दिखाई दे रही थी

motivational story in hindi कहानी से सीख

हम सब की जिंदगी मे हर इंसान की जिंदगी मे एक समय ऐसा जरूर आता ज़ब खराब परिस्थितियाँ चारो तरफ से आकर हमें घेर लेती है.

जिसके चलते इंसान अक्सर अपना आपा खो बैठता,बहुत घबरा जाता है. कुछ समझ नहीं आता की क्या करना सही होगा.

संयम खो बैठता है, शांत मन से कभी विचार नहीं कर पाता. फिर नतीजा उसकी बर्बादी बन कर सामने आती है.

हिरण चाहता तो इधर उधर भाग कर जान बचा सकता था. 1% तो चांस था ही.

लेकिन नहीं, हिरण ने शांत मन से सोचा और फैसला लिया की वो पानी पीने आया है और पानी पी कर ही रहूँगा. बिना पानी के अब तक जिन्दा लाश ही बन कर घूम रहा था.

तो दोस्तों, इस छोटी सि घटना से हमें ये सीख मिलती है की अक्सर हम लोग ज़ब सफलता के बहुत नज़दीक आ चुके होते है तब वक़्त हमारी परीक्षा लेने के लिए हमारा मनोबल परखने के लिए एक बुरा वक़्त बन का चारो तरफ से वार करने लगता है.

और हम लोग उससे बचने के लिए वो काम छोड़ देते है जो करने आए थे और सफलता के बहुत नज़दीक आ चुके थे.

किस्मत, मजबूरी ,बता कर लक्ष्य बदल लेते है. बस इसी वजह से करोड़ो लोग ऐसे है जो सफल नहीं हो पाते.

तो अब कुछ भी हो अपना लक्ष्य कभी मत बदलना, डटे रहो जिद्दी बन कर और लक्ष्य को हासिल करो.

 

इस कहानी अद्भुत video को देखने केलिए नीचे video play करो 👉🎧

तो दोस्तों ये moral and motivational story आपको कैसी लगी. कमेंट करके जरूर बताना. 

इस छोटी सि प्रेरणादायक कहानी को ज़ादा से ज़ादा शेयर करें ताकी बाक़ी लोग भी इस moral and motivational story को पढ़ कर प्रेरित हो सकें. और जीवन मे आगे बढ़ कर सफलता को हासिल कर सकें. 

 

 

ज्ञान से भरी अद्भुत कहानियाँ 

  • दोस्तों हमारी  हमेशा से यही कोशिश रहती है की हम  इस blog पर आपके लिए ज्ञान और शिक्षा  से भरी ऐसी ही तमाम कहानियाँ लाते रहे जिससे आपका ज्ञान बढ़ सके , बौद्धिक विकास हो सके ,जीवन मे सही फैसले ले सके , आप जीवन मे आगे बढ़ सके , मन मे सकरत्म्क विचारो का जन्म हो और  आपके सुंदर चरित्र का निर्माण हो ताकि आप आगे चल केआर सुंदर परिवार और समाज का निर्माण कर सके |हम चाहते है की यह कहानियाँ जादा से जादा लोगो तक पहुंचे ताकी वह भी इसका पूरा लाभ उठा सके इसलिए आप इन कहानियों को social media की मदद से अपने सभी दोस्तों मे अवश्य शेयर करे | आपका ये छोटा सा प्रयास कई लोगो की जिंदगी भी बदल सकता है | 

जीवन बदल देने वाली इन कहानियों को भी जरूर पढ़े –

ज्ञान व शिक्षा से भरी अद्भुत कहानियाँ

बच्चो के लिए बेहद ज्ञान सी भारी कहानियां जरूर पढे 👇

रोचक और प्रेरणादायक कहानियाँ

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

chanakya niti ki anmol bate | चाणक्य शस्त्र Chanakya niti | झूठ बोलने वाली पत्नी chanakya niti | इन बातों को समझ गए तो रिश्ते कभी खराब नहीं होंगे chanakya niti hindi me chanakya niti | chanakya golden thoughts chanakya niti | life change quotes chanakya niti | इन 5 परिस्थितियों मे हमेशा चुप रहो chanakya niti | life change thoughts chanakya niti | चाणक्य के अनमोल वचन chanakya thoughts for life