page contents
पंचतंत्र-की-शिक्षाप्रद-कहानी

पंचतंत्र की  शिक्षाप्रद कहानी | panchatantra moral story hindi

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सब का एक और पंचतंत्र की  शिक्षाप्रद कहानी मे. आज की panchantra moral story hindi कहानी आपके जीवन मे बेहद ख़ास होने वाली है ये छोटी सी कहानी आपको बहुत अनमोल सीख देगी.panchatantra ki shikshaprad kahani 

 

पंचतंत्र की शिक्षाप्रद कहानी | कौए को मिला नकल का अंजाम 

 

पंचतंत्र-शिक्षाप्रद-कहानी

एक पहाड़ की ऊंची चोटी पर एक गरुड़ रहता था। उसी पहाड़ की तलहटी में एक विशाल वृक्ष था, जिस पर एक कौआ अपना घोंसला बनाकर रहता था। तलहटी में आस-पास के गांवों में रहने वाले पशु पालकों की भेड़-बकरियां चरने आया करती थीं। जब उनके साथ उनके मेमने भी होते तो गरुड़ प्राय: उन्हें अपना शिकार बना लेता था। चूंकि गरुड़ विशाल पक्षी होता है और उसकी शक्ति अधिक होती है, इसलिए वह ऐसा आसानी से कर लेता था।

 

कौआ प्राय: यह दृश्य देखता था कि जैसे ही कोई मेमना नजर आया कि गरुड़ अपनी चोटी से उड़ान भरता और तलहटी में जाकर मेमने को झपट्टा मारकर सहज ही उठा लेता। फिर बड़े आराम से अपने घोंसले में जाकर उसे आहार बनाता। कौआ रोज यह देखता और रोमांचित होता। रोज देख-देखकर एक दिन कौए को भी जोश आ गया। उसने सोचा कि यदि गरुड़ ऐसा पराक्रम कर सकता है तो मैं क्यों नहीं कर सकता?

 

आज मैं भी ऐसा ही करूंगा। वह तलहटी पर चौकन्ना होकर निगाह रखने लगा। कुछ देर बाद कौए ने एक मेमने को तलहटी में घास खाते हुए देखा। उसने भी गरुड़ की ही तरह हवा में जोरदार उड़ान भरी और आसमान में जितना ऊपर तक जा सकता था, उड़ता चला गया। फिर तेजी से नीचे आकर गरुड़ की भांति झपट्टा मारने की कोशिश की, किंतु इतनी ऊंचाई से हवा में गोता लगाने का अभ्यास न होने के कारण वह मेमने तक पहुंचने  की बजाए एक चट्टान से जा टकराया। उसका सिर फूट गया, चोंच टूट गई और कुछ ही देर में उसकी मृत्यु हो गई।

 

पंचतंत्र की शिक्षाप्रद कहानी से सीख –

अपनी स्थिति और क्षमता पर विचार किए बिना किसी की नकल करने के विपरीत परिणाम भुगतने पड़ते हैं। इसलिए सदैव अपनी मौलिकता में रहें और विवेकयुक्त अनुकरण करें।

 

ईश्वर ने हर किसी को उसकी ख़ास एबिलिटी के साथ ही धरती पर भेजा है ऐसे मे गर हम अपनी एबिलिटी को छोड़ दूसरों की कार्य कुशलता पर काम करने लगते है तो यहीं अंजाम होता है. इसी तरह हर मनुष्य को अपनी एबिलिटी (योग्यता) की पहचान कर उसी पर ही आगे बढ़ना चाहिये.

तो दोस्तों आज की ये पंचतंत्र की शिक्षाप्रद कहानी आपको कैसी लगी.ऐसी ही तमाम ज्ञान से भरी नैतिक शिक्षाप्रद कहानियाँ हम अपने blog पर लाते रहते है ताकी आपके मन और जीवन पर सकारात्मक परिवर्तन आ सके.

एकता और बुद्धि की ताकत | पंचतंत्र की अद्भुत कहानी

पंचतंत्र की कहानियाँ

ज्ञान व शिक्षा से भरी अद्भुत कहानियाँ

बच्चो के लिए बेहद ज्ञान सी भारी कहानियां जरूर पढे 👇

रोचक और प्रेरणादायक कहानियाँ

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

chanakya niti ki anmol bate | चाणक्य शस्त्र Chanakya niti | झूठ बोलने वाली पत्नी chanakya niti | इन बातों को समझ गए तो रिश्ते कभी खराब नहीं होंगे chanakya niti hindi me chanakya niti | chanakya golden thoughts chanakya niti | life change quotes chanakya niti | इन 5 परिस्थितियों मे हमेशा चुप रहो chanakya niti | life change thoughts chanakya niti | चाणक्य के अनमोल वचन chanakya thoughts for life