page contents

10 best hindi naitik kahaniyan and inspiration | पतंग से मिला ज्ञान

hindi naitik kahaniyan moral and inspiration – नमस्कार दोस्तो !  स्वागत आपका ज्ञान से भरी नैतिक और प्रेरणादायक कहानियो की इस दुनियाँ मे | हर इंसान के जीवन मे एसी कहानियो का विशेस महत्त्व  होता है |

क्योकि एसी कहानियों मे वो ज्ञान की बाते और सीख छुपी होती है जिन्हे जानकर हम अपने सुंदर चरित्र बल्कि एक अच्छे व्यक्तित्त्व का निर्माण भी कर सकते है |

नैतिक कहानियां हमे  अपने जीवन मे  गलतियो और अनहोनियों के प्रति सजग रहना सिखाती है | जीवन मे सही फैसले लेना सिखाती है |

तो चलिये पढ़ते है हमारी आज की hindi story for moral  inspirational story 

 

पतंग से मिला ज्ञान |hindi naitik kahaniyan

hindi-naitik-kahaniyan
hindi story for moral

एक बार की बात है एक बहुत ही बुद्धिमान बाबा हुआ करते थे. . बहुत से लोग अपने जीवन की मानसिक  समस्या लें कर उस बुद्धिमान बाबा के पास आते. बाबा अपने दिये गए सुझाव से सबकी समस्या को दूर कर देते.  इस वजह से सब लोग उन्हें बुद्धिमान बाबा कहते थे।

 

एक खुले मैदान मे बहुत से बच्चे पतंग उड़ा रहे थे, बुद्धिमान बाबा भी वहीं बैठे थे. तभी एक बहुत दुःखी व्यापारी बुद्धिमान बाबा के पास गया 

और  बोला की – हे महात्मा जी,  मैं अपने  व्यापार को बहुत आगे बढ़ाना चाहता हूं.जिसके लिए  दिन रात मेहनत करता हूं. फिर भी उतना फायदा नहीं पहुंच रहा जितना होना चाहिए. पता नहीं किसकी नजर लगी है.बड़ी सफलता नहीं मिल पा रही.  आखिर क्या वजह है. आप कुछ मार्गदर्शन दें. 

 

तभी बाबा उठे और वहाँ रखें पतंग को उड़ाने का प्रयास करने लगे.

खूब कोशिस की लेकिन पतंग उड़ ही नहीं रहा था ,क्योंकि बाबा हवा के विपरीत पतंग उड़ा रहे थे. वो बार बार मेहनत कर रहे थे लेकिन ज़रा सि भी सफलता नहीं मिली. सारी मेहनत व्यर्थ | बाबा काफी थक चुके थे |

 

 बाबा को हवा के विपरीत पतंग उड़ाते देख वहाँ मौजूद व्यापारी सहित सभी लोग ताज़्ज़ुब मे पड़ गए. तभी व्यापारी के सब्र का बाँध टूटा और वह  बोला – अरे बाबा जी हम यहां आपसे अपनी समस्या का हल मांगने आए है और आप हो की पतंग उड़ रहे हो. और तो और हवा के विपरीत दिशा मे ।

भला कैसे उड़ेगा पतंग ज़ब आप हवा के विपरीत दिशा मे पतंग उड़ाओगे. आप पतंग उड़ाने मे गलती कर रहे हो. इसीलिए आपको इतनी मेहनत करनी पड़ रही और सफलता भी नहीं मिल रही. 

 

यदि आप हवा की दिशा के साथ पतंग उड़ाओगे तब आपको इतना मेहनत (ज़ोर) भी नहीं लगाना होगा और पतंग भी आसानी से उड़ेगी. 

 

तभी बुद्धिमान बाबा मुस्कराए और बोले-  की  हाँ बेटा.. यही तो मैं तुम्हे समझाना चाहता हूं. की ज़ब तुम अपने आस पास के माहौल, को समझकर  उनके साथ बराबर तालमेल बैठाओगे    तब ये प्रकृति (यूनिवर्सल लॉ) तुम्हारे कम से कम एफर्ट पर भी तुम्हे उच्च कोटि की सफलता देगी. एक ऐसी सफलता जिसे आपने सपने मे भी नहीं सोची होगी. 

 

Advertisement

लेकिन यदि आप अपने आस पास के माहौल को समझे बगैर गलत दिशा मे मेहनत करोगे तो कितनी भी मेहनत कर लो उसका रिजल्ट zero ही आएगा. 

 

और ज़ब कोई रिजल्ट नहीं मिलेगा तो आप बहुत ज़ादा डिमोटिवेट होने लगोगे और अपना पीस of माइंड भी खो दोगे. 

 

अब व्यापारी को ना सिर्फ अपनी समस्या का हल मिल चुका होता है बल्कि उसे एक सफल इंसान बनने का सूत्र भी मिल चुका होता है. 

 

इस hindi naitik kahaniyan से हमने क्या सीखा ?

तो दोस्तों यह प्रेरणादायक कहानी  hindi naitik kahaniyan आपको कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताना. 

 

मैं चाहता हूं यह hindi naitik kahaniyan ज़ादा से ज़ादा लोगो तक पहुंचे. ताकी वह भी इस कहानी के माध्यम से सफलता के अद्भुत ज्ञान से परिचित और प्रेरित हो कर जीवन मे सफल इंसान बन सकें. 

 

इसलिए इस कहानी को ज़ादा से ज़ादा शेयर करें. 

 

दोस्तों हमारी  हमेशा से यही कोशिश रहती है की हम  इस blog पर आपके लिए ज्ञान और शिक्षा  से भरी ऐसी ही तमाम कहानियाँ लाते रहे जिससे आपका ज्ञान बढ़ सके , बौद्धिक विकास हो सके ,जीवन मे सही फैसले ले सके , आप जीवन मे आगे बढ़ सके , मन मे सकरत्म्क विचारो का जन्म हो और  आपके सुंदर चरित्र का निर्माण हो ताकि आप आगे चल केआर सुंदर परिवार और समाज का निर्माण कर सके |

हम चाहते है की यह कहानियाँ जादा से जादा लोगो तक पहुंचे ताकी वह भी इसका पूरा लाभ उठा सके इसलिए आप इन कहानियों को social media की मदद से अपने सभी दोस्तों मे अवश्य शेयर करे | आपका ये छोटा सा प्रयास कई लोगो की जिंदगी भी बदल सकता है |

 

Advertisement

Leave a Comment