page contents

best moral story जादुई चक्की

नमस्कार दोस्तो आ हम फिर से हाजिर हुए है आपकी खिजमत मे बेहद शिक्षाप्रद कहानी  जिसका नाम है जादुई चक्की best moral story | आज की इस कहानी से आपको बहुत कुछ सीखने मिलेगा |

तो इस जादुई चक्की best moral story को आखिर तक पढ़ो |

 

best moral story जादुई चक्की – 

एक गांव मे 2 भई रहा करते थे.बड़े भाई का नाम था मुन्ना लाल और छोटे भाई का नाम था मोहन लाल. 

 दोनों भाई आपने बीवी के साथ अलग अलग रहते थे. बड़ा भई गलत काम करके  पूरे गांव मे सबसे धनी व्यक्ति बन गया था. वो एक नंबर का लालची और धूर्त था… 

 

बड़े भाई ने चालाकी से छोटे भाई की सम्पत्ति को अपने  नाम करवा लिया था इसलिए  छोटा भाई बहुत गरीब था लेकिन वो बहुत ईमानदार और नेक दिल का इंसान था. 

 

मोहन लाल  दूसरों के खेतो मे मजदूरी करके जीविकि कमाता था और घर का खर्च चलाता था. 

 

रोज की तरह मोहन लाल काम के लिए खेत की तरह जा रहा था. आज मोहन लाल बहुत उदास और दुःखी था क्योंकि पत्नी बीमार थीं. 

 

 रास्ते मे मोहन लाल  को एक बूढ़ा व्यक्ति आता हुआ दिखा. मोहन लाल उस बूढ़े व्यक्ति के पास पंहुचा तो वो बूढ़ा व्यक्ति पेड़ की छाँव मे नीचे बैठा हुआ था वह बहुत थक चुका था उसके पास काफ़ी समान था. 

 

यह देख मोहन लाल बोला अरे बाबा जी बताओ आपको कहाँ जाना है. मै आपका सारा समान उठा लेता हूं. 

 

बूढ़ा व्यक्ति बोला… बेटा मुझे बस यही पास के गांब मे जाना है वहीं मेरा घर है. 

 

मोहन लाला ने समान उठाया और उनके घर तक पंहुचा दिया. बूढ़ा व्यक्ति मोहन लाल की तरह देखता हुआ बोला… बेटा बहुत बहुत मेहरबानी आपकी ईश्वर तुम्हे सदैव बनाए रखें हमेशा ख़ुश रखें. 

 

बेटा तुम बहुत उदास दिखाई दे रहे हो. बताओ क्या बात है. मोहन लाल ने सब बताया. फिर बूढ़े व्यक्ति ने मोहन लाल को अपने घर अंदर आने को कहा. 

 

बूढ़े व्यक्ति ने मोहन लाल को एक जादुई चक्की दिखाई जो की एक लाल कपड़े से ढक रखी थीं. 

 

बूढ़ा व्यक्ति बोला – बेटा ये चक्की तुम रख लो इसे घर लें जाओ. 

 

 ये कोई आम चक्की नहीं ये जादुई चक्की है. आज से 40 साल पहले मै बहुत गरीब और लाचार हुआ करता था. तब एक इंसान ने मुझे ये चक्की दी थीं. और बोला था की ज़ब को पूरी तरह प्रयोग कर लो तो इसे बाद मे किसी ऐसे  नेक और ईमानदार इंसान को सौप देना जो बहुत गरीब और दुःखी हो. 

 

इसलिए ये जादुई चक्की मै तुम्हे सौंप रहा हूं. 

ज़ब भी तुम्हे किसी चीज की जरूरत हो इस चक्की के ऊपर से इस लाल कपड़े को हटा देना और इसे घुमाते हुए बोलना है चक्की चक्की मुझे ये दे दो.. तो तुरंत तुम्हारे सामने वो वस्तु हाजिर हो जाएगी. 

 

लेकिन ध्यान रहे इच्छा पूर्ती के बाद तुरंत इस चक्की को इस लाल कपड़े से ढक देना वरना ये चक्की जादू से लगातार समान पैदा करती रहेगी. और अनर्थ हो जाएगा. 

best-moral-story

मोहन लाल बहुत खुश हुआ उस बूढ़े व्यक्ति का धन्यवाद करते हुए ख़ुशी ख़ुशी वो जादुई चक्की अपने घर लें गया. 

 

घर पहुंचते ही मोहन लाल ने सब अपनी पत्नी से बताया. पत्नी बहुत खुश हुई. अब दोनों ने रोज अपनी इच्छाए उस जादुई चक्की के माध्यम से पूरी करवानी शुरु कर दी. देखते ही देखते मोहन लाल की तो किस्मत ही चमक गई. उसकी जिंदगी ही बदल गई. मोहन लाल हर लाचार इंसान की मदद करने लगा. दूर दूर तक मोहन लाल के चर्चे होने लगे. 

 

अब उन लोगो के पास सुख सुविधा की हर वस्तु उपलब्ध थी. उधर ज़ब मुन्ना लाल को ये पता चला की मोहन लाल 5 दिन मे इतना बड़ा सेठ बन गया, तो उससे रहा ना गया गुस्से और ईर्षा से आग बबूला हो गया. 

 

बार बार ये सोचता रहा की ये कैसे हो गया. ऐसा कैसे हो सकता है. पता लगाना पड़ेगा की ऐसा कौन साथ खजाना हाथ लग गया जो इतनी जल्दी इतना बड़ा सेठ बन गया. 

 

मुन्ना लाल रात के समय अँधेरे मे चुपके से मोहन लाल के घर की खिड़की से अंदर झाकने लगा… उसने देखा की मोहन लाल चक्की घूमता और जो भी बोलता वो उसके सामने प्रकट हो जाता.. ये देख मुन्ना लाल के होश उड़ गए…. वो समझ गया की अच्छा ये बात है. 

 

मुन्ना लाल लालची तो था ही इसलिए उसके मन मे लालच आया. और उस जादुई चक्की को चोरी करने का प्लान बनाया. 

 

मुन्ना लाल साधू का भेष बदल कर मोहनलाल के घर के बाहर पंहुचा. मोहन लाल ने साधू के भेष मे मुन्ना लाल को घर के अंदर बुलाया. 

 

साधू के भेस मे मुन्ना लाल बोला… तुम पर बहुत बड़ी समस्या आने वाली है. 

मुन्ना लाल ने एक फल निकाला और कहा की आप दोनों इसे अभी खा लो तुम पर आने वाला  संकट टल जाएगा. 

 

दोनों ने जैसे फल खाया दोनों वहीं बेहोश हो कर गिर गए. 

 

मुन्ना लाख ने तुरंत वो जादुई चक्की उठाई और वहाँ से नौ दो ग्यारह हो गया. 

 

मुन्ना लाल चक्की लेकर घर पंहुचा और सब अपनी  पत्नी से बताया. मुन्ना लाल को एहसास हुआ की चक्की को घर पर रखना सही नहीं होगा इसलिए वो अपनी पत्नी सहित  चक्की को कहीं दूर लेजाने के लिए एक नाव पर बैठा और वहाँ से दूर चला गया. 

 

बीच गहरी  नदी मे पहुंचते ही मुन्ना लाल और पत्नी ने चकी घुमा कर अपनी इच्छाए बोली शुरू की… 

 

बस फिर क्या था चक्की ने अपना कमाल दिखाना शुरू किया….. चक्की लगातार चलती रही और सम्मान निकलता रहा….

 

 किश्ती भार सहन ना कर पाई जिस वजह से संतुलन बिगाड़ गया और दोनों पति पत्नी डूब कर वहीं मर गए. क्योंकि मुन्ना लाल को ये नहीं पता था की उस जादुई चक्की को बंद कैसे करना है. 

 

इस तरह मुन्ना लाल की ईर्षा और लालच उसे लें डूबा. 

 

कहानी से सीख – best moral story जादुई चक्की 

 

इस कहानी से हमें ये सीख मिलती है की कभी हद से ज़ादा लालच और ईर्षा का परिणाम बुरा ही होता है. दूसरों के साथ गलत करोगे तो आपके साथ भी गलत अवश्य होगा. कर्मो का फल लौट कर आप तक एक ना एक दिन पहुंच ही जाएगा जैसा इस कहानी मे हुआ.. 

 

दूसरी सीख ये मिलती है की जीवन मे हमेशा ईमानदार रहो और नेकी के रास्ते पर चलो… देर से सही ! ईश्वर किसी ना किसी रूप मे अपनी कृपा जरूर बरसता है यानी आपकी नेकी और ईमानदारी का फल खूबसूरत फल अवश्य देता है. 

 

अपने मन को काबू मे रखो हद से ज़ादा इच्छाए विनाश का कारण बनती है. 

 

तो इस कहानी  best moral story जादुई चक्की से सीख लेकर आप भी अपने जीवन मे हमेशा नेकी और ईमानदारी के रास्ते पर चलते रहे.. 

 

इन्हे भी पढ़े. 

दोस्तों हमारी  हमेशा से यही कोशिश रहती है की हम  इस blog पर आपके लिए ज्ञान और शिक्षा  से भरी ऐसी ही तमाम कहानियाँ लाते रहे जिससे आपका ज्ञान बढ़ सके , बौद्धिक विकास हो सके ,जीवन मे सही फैसले ले सके , आप जीवन मे आगे बढ़ सके , मन मे सकारात्मक  विचारो का जन्म हो और  आपके सुंदर चरित्र का निर्माण हो ताकि आप आगे चल  कर  सुंदर परिवार और समाज का निर्माण कर सके |

हम चाहते है की यह कहानियाँ जादा से जादा लोगो तक पहुंचे ताकी वह भी इसका पूरा लाभ उठा सके इसलिए आप इन कहानियों को social media की मदद से अपने सभी दोस्तों मे अवश्य शेयर करे | आपका  ये छोटा सा प्रयास कई लोगो की जिंदगी भी बदल सकता है |

 

जरूर पढ़े –

जीवन बदल देने वाली ज्ञान से भरी अद्भुत कहानियाँ जरुए पढे 👇

 

बच्चो के लिए बेहद ज्ञान सी भारी कहानियां जरूर पढे 👇

 

👇दुनियां की सबसे प्रेरणादायक कहानियाँ जरूर पढे 👇

रोचक कहानियाँ 

 

 

भगवान बुद्ध की ज्ञान से भरी शिक्षाप्रद कहानियाँ 

 

महात्मा बुद्ध और भिखारी की अद्भुत कहानी 

Buddha-moral-story

जरूर पढ़े – दान का फल – ज्ञान से भरे धार्मिक कहानियों का रोचक सफर-

religious-stories-in-hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *