page contents

best Life lesson moral story hindi | दुखी कौआ

Life lesson moral story hindi – नमस्कार दोस्तों मै हरजीत मौर्या स्वागत करता हूं आपका ज्ञान से भरी किस्से कहानियों की रोचक दुनियां मे.

हम रोज यहां आपके लिए ज्ञान से भरी ऐसी कहानियाँ लें कर आते है जिससे एक बेहतर, प्रभावशाली और सकारात्मक सोच का निर्माण हो सकें. 

क्योंकि एक सुंदर और सकारात्मक और कल्पनाशील सोच ही बुरे तत्त्वों को खत्म करके  एक बेहतर समाज का निर्माण करती है. 

हमारा मकसद ज्ञान से भारी कहानियों के माध्यम से आप तक वो ज्ञान पहुँचाना है जिसे पढ़ने और समझने के बाद आप अपना जीवन सार्थक कर सकें. 

कहानियों से मिलने वाला ज्ञान मन पर सकारात्मक प्रभाव डालता है और उनसे मिलने वाला ज्ञान जीवन भर याद रहता है. 

 

कहानियों से मिलने वाले ज्ञान और शिक्षा मे बहुत शक्ति होती है. बचपन से ही कहानियाँ इंसान के जीवन मे ना सिर्फ उसके सुंदर चरित्र का निर्माण करने मे बल्कि जीवन मे सही रहा दिखाने, सही फैसला लेने, हिम्मत बढ़ाने मे भी मील का पत्थर साबित होती है. 

 

तो पढ़ते रहिये इन कहानियों को और सीखते रहिये रहिये जीवन के अनमोल ज्ञान. 

 

दुःखी कौआ जीवन की सीख – moral story

Life-lesson-moral-story-hindi

एक कौआ अपनी life को लेकर बहुत परेशान था वो ज़ब भी किसी पक्षी को देखता तो खुद से तुलना करने लग जाता जिससे उसे ये आभास होता की उसकी जिंदगी मेरी जिंदगी से ज़ादा अच्छी है. वो बहुत मज़े मे है. 

 

पेड़ पर बैठ कर,  कौआ ये सोच ही रहा था की इतने मे कोई भारी सि आवाज़ मे बोला – इतने परेशान क्यों हो बच्चे, क्या सोच रहे हो. 

 

ये सुनते ही कौआ इधर उधर देखने लगा, और डरते हुए बोला की कौन है यहां, सामने आओ. 

 

तभी पेड़ बोला – अरे डरो मत, ये मै हूं जिस पर तुम बैठे हो. मै कल्पवृक्ष हूं, मै अपनी शक्तियों से इस जंगल मे रहने वाले हर जीव की परेशानी दूर करता हूं. 

अब शक्तियों का नाम सुनते ही ख़ुशी के मारे  कौए के बाल खड़े हो गए… कौआ बड़ी उत्सुकता से बोला, क्या, आप सच्च मे ऐसा कर सकते हो. 

 

पेड़ बोला, हाँ भई हाँ, लेकिन तुम्हारी परेशानी क्या है. 

कौआ हाथ जोड़ते हुए बोला आप मुझे अभी ऐसा पक्षी बना दो जो दुनियां का सबसे खुशनसीब पक्षी हो उसे किसी बात की परेशानी ना हो. 

 

कौआ लगाता ये बोलते ही जा रहा था…..

अल्पवृक्ष ने बोला – हाँ, ये सब तो ठीक है पर तुम्हे ऐसा बनना क्यों है.? 

 

कौआ बोला की मै अपनी इस कौए वाली जिंदगी से खुश नहीं हूं. ना रंग ना रूप कोई गुण नहीं मुझमे. आवाज़ सुनते ही सब भगाने लगते है मुझे. 

 

अल्पवृक्ष बोला – अच्छा ये बात है, तो ठीक है तुम जैसा चाहते हो वैसा ही बना दूंगा तो बताओ तुम्हे कौन सा पक्षी बनाऊ. 

 

ये सुनते ही कौआ मौन हो गया और सोच मे पड़ गया की किस पक्षी का नाम लू आखिर कौन ऐसा पक्षी हो सकता है. 

 

कल्पवृक्ष बोला –  अरे अब क्या हुआ, किस सोच मे पड़ गए, कौआ बोला, मै अभी पता करके आता हूं, 

 

अब निकल पड़ा कौआ दुनियां के सबसे खुशकिस्मत वाले पक्षी की तलाश मे. 

 

उड़ते उड़ते कौए के कान मे कोयल की मधुर आवाज़ सुनाई दी. कौआ तुरंत कोयल के पास पंहुचा, और बोला

की अरे कोयल भाई, ! वाह क्या आवाज़ है तुम्हारी, बहुत सुना है तुम्हारे बारे, तुम्हारी आवाज़ सुनने के लिए लोग महीनों इंतजार करते है, क्या  मस्त life होगी तुम्हारी, क्यों? 

 

कोयल झिटक कर बोला, अरे हट, क्या बात करता है,इसी आवाज़ को सुन कर बाज़ हमारे पीछे पड़ जाता है खाने को, जान पर बन जाती है हमारी, और तो ये रंग देख लो, काला, 

 

ये भी कोई रंग है. और जिंदगी भर कभी खुद का घोंसला नहीं बना पाते, दूसरों के घोसलो पर आशियाना बनाने के लिए, उनके अंडे वहाँ से नीचे गिराने पड़ते है इतना घोर पाप करने के बाद एक घर नसीब होता है. ये भी कोई जिंदगी है. 

 

अरे जिंदगी तो तोते की होती है मस्त आहा,,, इंसानों की जुबान बोलता है, उन्ही के बीच रहता है. आहा क्या ठाठ है. अभी उसी  से आरहा हूं मिल कर. 

 

ये सुनते ही कौआ तुरंत उस तोते है पास पंहुचा.. और बोला अरे तोते भाई,… आहा क्या मस्त रंग है तुम्हारे, इंसानों की भाषा बोल लेते हो.. जो बोलते वो हाजिर काजू बादाम तक खाते हो मजे से, वाह. 

 

तोता बोला, – ऐसा कौन बोला तेरे  को, अपनी मर्जी से नहीं रह रहा हूं मजबूरी है… बचपन मे हम तोतो की ये इंसान लोग अपने मजे के लिए उठा कर लें आते है पालते है केकिन पिंजरे मे बंद कर के रख देते है, कहीं उड़ ना जाऊ यहां तक की कई तोतो के पँख काट देते है… आजादी के नाम पर जिंदगी पिंजरे मे सिमट कर रह गई है. ये भी कोई जिंदगी है. 

 

मुझसे अच्छे तो तुम हो आजादी से उड़ रहे हो जहाँ मन करा चले गए जो मन किया खा लिया.. मज़े की life है तुम्हारी. 

 

 

अरे सबसे अच्छी life तो हंस की होती है, आहा!  क्या मस्त सफेदी होती है, देखते ही मन शांत हो जाता है सबका. पूरे झील का राजा होता है राजा, दूर दूर से लोग आते है देखने के लिए हंस को |

खूब सेल्फी लेते है खूब तारीफे करते है. अरे बिना हंस के कोई शोभा नहीं होती झील की. लोग तरह तरह की चीजें देते खाने  को |क्या मस्त जिंदगी है हंस की |

 

कौआ तुरंत उड़ कर हंस के पास गया –

कौआ बोला – अरे हंस भैया…. अभी अभी तोता भाई ने बताया क्या मस्त जिंदगी है आपकी…. हंस बोला – पागल हो क्या… ये भी कोई जिंदगी है. 

 

 इन लोगो के मजे के लिए मजबूरी मे सारा दिन इस पानी मे पेंडल मारते रहते है..और पँख हमारे इतने भारी, की ऊंची उड़ान भी नहीं भर पाते. इंसानि शिकारियों की नजर हम पर हमेसा होती है.  रंग भी सफ़ेद कफन जैसा कोई रंग भी नहीं |

अरे सबसे अच्छी life तो मोर की होती है. 

 

कौआ तुरंत मोर के पास पहुँचता है, और बोलता है, अरे मोर भैया, वाह कितने सुंदर हो आप, कितना बड़ा शरीर और खूबसूरत शरीर है…….

 

ज़ब भी नाचते हो हर कोई देखते रह जाता है .लोग इंतज़ार करते है तुम्हारा नाच देखने के लिए. तुम्हारी आवाज़ भी मन को बहुत सुकून देती है. 

मोर भी  दुःखी हो कर बोला…. अरे कौआ भाई, क्यों मजाक उड़ा रहे हो… हम लोगो की जिंदगी के सिक्के का दूसरा पहलु तो तुम जानते ही नहीं हो.. 

हमारी तो सुंदरता ही हमारे लिए श्राप है. हमारे सुंदर पंखो की वजह से हमारा शिकार किया जाता है इंसान हमें मारकर हमारे पँख शरीर से नोच लेते है… 

सिर्फ  यही नहीं, हमारा शरीर और पँख भारी होने की वजह से हम 20 फूट से ऊपर नहीं उड़ पाते. 

 

कभी जंगली कुत्ते हमारा शिकार कर लेते है. 

 

मोर की बात सुनकर कौआ बहुत उदास हुआ और उड़ कर कल्पवृक्ष के पास पंहुचा. 

 

कौए ने अल्पवृक्ष को सारी बातें बताई…. तब अल्पवृक्ष बोला…. 

बेटा दूर के ढ़ोल हमेशा सुहावने ही नजर आते है.. बिना पूरी सच्चाई जाने तुम अक्सर दूसरों को देखते और तुम्हे ये लगता की उसकी life तुमसे बहुत अच्छी है. जबकि सच्चाई क्या है वो तो तुम जान ही गए हो. 

 

कौआ बोला, हाँ आप सही कह रहे हो….. सच्चाई जानने के बाद अब मुझे ये एहसास हो चुका है की उन सब से अच्छी तो मेरी जिंदगी है.. यानी सबसे खुशनसीब पक्षी तो मै हुआ. 

 

इतना सोचते ही कौआ मजे से उड़ने लगा. गीत गाने लगा. 

Life lesson moral story hindi से हमने क्या सीखा ?

 

तो दोस्तों, ऐसा ही हमारी जिंदगी मे भी होता है… जादातर लोग अपनी जिंदगी से बस इसीलिए नाखुश नहीं होते क्योंकि उन्हें ऐसा लग रहा होता है दूसरे लोगो की life मुझसे बहुत ज़ादा अच्छी है..  

Life lesson moral story hindi से हमने सीखा की

हमेशा याद रखना, इंसान को अक्सर उसके विचार ही दुःखी कर देते है..खुद को दुःखी करने वाले आप खुद होते हो, क्योंकि आप जैसा सोचोगे उसका असर आपकी जिंदगी पर पड़ेगा. आप ज़िंदगी को जिस नजरिए से देखोगे आपको ज़िंदगी वैसी ही नजर आएगी |गर आप अक्सर नुक्स देखोगे तो नुक्स ही नुक्स नजर आएंगे ज़िंदगी मे |

और वैसे भी ईश्वर ने हर जीव जंतु को अलग अलग जरूर बनाया है लेकिन हर किसी मे बहुत ही कमाल की खासियत डाल कर भेजा है. 

इसलिए हमेशा अपनी जिंदगी को सबसे बेहतर समझो….कभी शिकायते मत करो… जो जिंदगी मिली उसी मे खुश रहना सीखो. 

तो दोस्तों उम्मीद करता हूं इस कहानी से आपको बहुत कुछ सीखने को मिला होगा. 

 

Life lesson moral story hindi की इस कहानी को अपने सभी दोस्तों मे जरूर शेयर करें. 

 

दोस्तों हमारी  हमेशा से यही कोशिश रहती है की हम  इस blog पर आपके लिए ज्ञान और शिक्षा  से भरी ऐसी ही तमाम कहानियाँ लाते रहे जिससे आपका ज्ञान बढ़ सके , बौद्धिक विकास हो सके ,जीवन मे सही फैसले ले सके , आप जीवन मे आगे बढ़ सके , मन मे सकारात्मक  विचारो का जन्म हो और  आपके सुंदर चरित्र का निर्माण हो ताकि आप आगे चल  कर  सुंदर परिवार और समाज का निर्माण कर सके |

हम चाहते है की यह कहानियाँ जादा से जादा लोगो तक पहुंचे ताकी वह भी इसका पूरा लाभ उठा सके इसलिए आप इन कहानियों को social media की मदद से अपने सभी दोस्तों मे अवश्य शेयर करे | आपका  ये छोटा सा प्रयास कई लोगो की जिंदगी भी बदल सकता है |

 

जरूर पढ़े –

जीवन बदल देने वाली ज्ञान से भरी अद्भुत कहानियाँ जरुए पढे 👇

 

बच्चो के लिए बेहद ज्ञान सी भारी कहानियां जरूर पढे 👇

 

👇दुनियां की सबसे प्रेरणादायक कहानियाँ जरूर पढे 👇

रोचक कहानियाँ 

 

 

भगवान बुद्ध की ज्ञान से भरी शिक्षाप्रद कहानियाँ 

 

महात्मा बुद्ध और भिखारी की अद्भुत कहानी 

Buddha-moral-story

जरूर पढ़े – दान का फल – ज्ञान से भरे धार्मिक कहानियों का रोचक सफर-

religious-stories-in-hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *